नई दिल्ली, एजेंसियां। आम बजट को अर्थव्यवस्था में जान डालने वाला बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इसमें 'विजन और एक्शन' दोनों है। एक तरफ इससे आमदनी और निवेश को बढ़ावा मिलेगा, तो वहीं मांग और खपत में भी इजाफा होगा।

मोदी ने कहा- यह बजट देश की मौजूदा जरूरतों और भविष्य की उम्मीदों को पूरा करेगा

प्रधानमंत्री ने इसे दशक का पहला 'विजन और एक्शन' वाला बजट भी बताया और वित्तमत्री निर्मला सीतारमण और उनकी टीम को इसके लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह बजट देश की मौजूदा जरूरतों और भविष्य की उम्मीदों को पूरा करेगा।

यह बजट वित्तीय प्रणाली में नई जान डालेगा

लोकसभा में वित्तमंत्री द्वारा बजट पेश किए जाने के बाद टेलीविजन पर प्रसारित अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा, 'मैं निश्चिंत हूं, यह बजट आमदनी और निवेश के साथ ही साथ मांग और खपत को भी बढ़ाएगा। यह वित्तीय प्रणाली में नई जान डालेगा और क्रेडिट प्रवाह को मजबूत करेगा।'

बैंकों और रेलवे की ऑनलाइन साझा परीक्षा

प्रधानमंत्री ने बैंकों और रेलवे समेत सरकारी विभागों के लिए ऑनलाइन साझा परीक्षा कराने के प्रस्ताव का जिक्र करते हुए कहा कि इससे रोजगार मिलने के साथ ही युवाओं को अलग-अलग परीक्षाएं देने की परेशानियों से भी राहत मिलेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि कृषि, बुनियादी ढांचे, टेक्सटाइल और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में ज्यादा नौकरियां पैदा होंगी।

लाभांश वितरण कर खत्म किए जाने से कंपनियों के हाथ में आएंगे 25,000 करोड़

लाभांश वितरण कर को खत्म किए जाने से कंपनियों के हाथ में 25,000 करोड़ रुपये आएंगे, जिससे उन्हें आगे निवेश करने में मदद मिलेगी। विदेशी निवेश को आकर्षित करने के लिए विभिन्न करों में भी राहत दी गई है। स्टार्टअप्स और रियल एस्टेट क्षेत्र के लिए भी विभिन्न तरह की कर रियायतें दी गई हैं। इस बजट ने उनकी सरकार के 'न्यूनतम सरकार, अधिकतम प्रशासन' के संकल्प को और मजबूत किया है।

100 एयरपोर्ट से पर्यटन उद्योग को बढ़ावा मिलेगा

प्रधानमंत्री ने कहा वित्तमंत्री ने अपने बजट प्रस्ताव में देश में 100 एयरपोर्ट के विकास का प्रस्ताव किया है। यह कदम पर्यटन क्षेत्र में नवजीवन का प्रवाह करेगा। पर्यटन के क्षेत्र में कम निवेश के साथ ज्यादा रोजगार और आमदनी की ज्यादा संभावना है।

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस