जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। अयोध्या फैसले से पहले एक तरफ जहां सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने उत्तर प्रदेश के डीजीपी और मुख्य सचिव को बुलाकर कानून व्यवस्था की पूरी तैयारी का जायजा लिया वहीं सरकार के स्तर से पूरे देश में शांति माहौल बनाने के लिए केंद्रीय मंत्री जुट गए हैं।

विकास की गाड़ी सौहा‌र्द्ध और एकता के हाईवे पर ही तेजी से दौड़ सकती है

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को केरल के कोच्चि में दक्षिण भारत के लगभग तीन सौ धार्मिक स्थलों, शिक्षण संस्थानों, सामाजिक संगठनों के मुतवल्लियों की बैठक बुलाकर बताया कि विकास की गाड़ी सौहा‌र्द्ध और एकता के हाईवे पर ही तेजी से दौड़ सकती है।

सरकार किसी भी परिस्थिति में सामाजिक ताना बाना वह नहीं टूटने देगी

उन्होंने यह भी बताया कि किस तरह मोदी सरकार के काल में अल्पसंख्यकों के विकास का रास्ता खुला है। विभिन्न प्रतिनिधियों की ओर से भी यह आश्वासन दिया गया कि वह किसी भी परिस्थिति में सामाजिक ताना बाना वह नहीं टूटने देंगे।

भाजपा ने भी सामंजस्य स्थापित करने पर दिया जोर

अयोध्या के राम मंदिर पर आने वाले फैसले को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उसके आनुषंगिक संगठनों के अलावा भाजपा ने भी सामंजस्य स्थापित करने पर जोर दिया है। धर्मगुरुओं से लेकर सभी वर्गो के लोगों से संपर्क किए जा रहे हैं। पहल यही हो रही है कि फैसला किसी के भी पक्ष में हो उस पर हो हल्ला न मचे। भाजपा ने बयानवीरों पर अंकुश लगा दिया है।

कड़वी भाषा बोलने वाले भाजपा नेताओं को दी चेतावनी

अप्रिय और कड़वी भाषा बोलने वाले नेताओं, विधायकों और कार्यकर्ताओं को सख्त चेतावनी दी गई है कि इस विषय पर किसी भी तरह की प्रतिक्रिया से बचें। आरएसएस और उसके आनुषंगिक संगठनों ने लगातार संपर्क शुरू किया है, जबकि इस बीच सरकार ने भी शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए हर संभव उपाय किए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों की जिम्मेदारी तय कर दी है।

अयोध्या पर आने वाले फैसले का सम्मान करेगी भाजपा

यूपी के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने सभी पदाधिकारियों को अयोध्या पर आने वाले फैसले का सम्मान करने के साथ भाईचारा कायम रखने के लिए संपर्क के निर्देश दिए हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी जिलों में सक्रियता बढ़ा दी है। स्वतंत्र देव साधु-संतों और मुस्लिम धर्मगुरुओं से भी लगातार संपर्क कर रहे हैं।

यूपी में शांति बनाए रखने के लिए सभी वर्गो से संपर्क किया जा रहा है

उत्तर प्रदेश में शांति बनाए रखने के लिए मंडल और जिले स्तर पर समाज के सभी वर्गो, धर्मगुरुओं, प्रबुद्धजनों और सामाजिक कार्यकर्ताओं से भाजपा के लोग संपर्क कर रहे हैं। यह सिलसिला पिछले कई दिनों से जारी है। यह हिदायत दी जा रही है कि फैसला चाहे किसी के पक्ष में आए, लेकिन कोई ऐसी प्रतिक्रिया न हो जिससे किसी का दिल दुखे। चिह्नित संवेदनशील जिलों के नेताओं को विशेष जिम्मेदारी सौंपी गई है।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप