नई दिल्ली, एएनआई: गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने बीजेपी का साथ छोड़ने का फैसला कर लिया है। सामाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, उत्पल पणजी निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनावी मैदान में उतरेंगे। गौरतलब है कि बीजेपी ने गुरुवार को गोवा विधानसभा चुनाव के लिए 34 उम्मीदवारों की सूची जारी की है। जिसमें पार्टी ने उत्पल पर्रिकर को टिकट नहीं दिया है। वो पणजी विधानसभा क्षेत्र से टिकट मांग रहे थे।

बीजेपी ने जताई थी आश्वस्त्ता

आपको बतादें, बीजेपी ने पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर को दो सीटों पर चुनाव लड़ने की पेशकश की थी। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने गुरुवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा था कि पार्टी के राष्ट्रीय नेता उत्पल के संपर्क में हैं। साथ ही होने आश्वस्त्ता जताई थी की उत्पल पर्रिकर बीजेपी की इस पेशकश को मान लेगें।

'आप' ने भी रखा था टिकट का प्रस्ताव

गुरुवार को बीजेपी ने गोवा विधानसभा चुनावों के लिए 34 उम्मीदवारों के सूची जारी की थी। इस सूची में गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत  मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल का नाम नहीं शामिल था। विधानसभा चुनावों के लिए बीजेपी उम्मीदवारों की सूची में नाम न होने का आम आदमी पार्टी (आप) पूरा फायदा उठाने की कोशिश में थी। आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्पल को ‘आप’ में शामिल होने की पेशकश की थी। साथ ही उत्पल को आम आदमी पार्टी के टिकट से ही चुनाव लड़ने का सुझाव दिया था। 

सांसद संजय राउत कह चुके हैं समर्थन देने की बात

पिछले दिनों शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा था कि यदि उत्पल पर्रिकर स्वतंत्र रूप से (निर्दलीय) चुनाव लड़ते हैं तो हम उनका समर्थन करेंगे। अपने बयान में राउत ने गोवा में बीजेपी को स्थापित करने में पर्रिकर परिवार के योगदान की भी उल्लेख किया था।

Edited By: Amit Singh