जयपुर, नरेन्द्र शर्मा। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह राजस्थान से राज्यसभा सदस्य बन सकते है। राज्यसभा की एक सीट भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य मदन लाल सैनी के निधन के कारण खाली हुई है । इस पर कांग्रेस में मनमोहन सिंह को राज्यसभा भेजे जाने की कवायद चल रही है ।

प्रदेश के एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने बताया कि पहले मनमोहन सिंह को तमिलनाडु से राज्यसभा में भेजे जाने को लेकर डीएमके से बातचीत चल रही थी। लेकिन, अब राजस्थान में सैनी के निधन के कारण खाली हुई सीट को कांग्रेस मनमोहन सिंह के लिए सुरक्षित मान रही है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट के बीच इस बारे में बातचीत हो चुकी है । बताया जाता है कि दोनों नेताओं की कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व के साथ भी इस बारे में चर्चा हो गई है।

गौरतलब है कि मनमोहन सिंह का राज्यसभा में कार्यकाल 14 जून को खत्म हो गया है। वह असम से लगातार पांच बार राज्यसभा सांसद रह चुके है ।

पांच साल बचा है कार्यकाल
मदनलाल सैनी का 24 जून को दिल्ली के एम्स में 75 वर्ष की आयु में निधन हो गया था। सैनी को राज्यसभा सदस्य बने अभी छह माह ही हुए थे। ऐसे में पांच वर्ष से अधिक का समय अभी उनकी खाली सीट के लिए बचा है ।
बहुमत के लिहाज से कांग्रेस भाजपा से मजबूत
करीब छह माह पूर्व सत्ता में आई कांग्रेस के 200 सदस्यीय विधानसभा में 100 विधायक हैं। इसके साथ ही 12 निर्दलीय विधायकों एवं छह बसपा विधायकों का भी कांग्रेस को समर्थन हासिल है। भाजपा के पास 72 विधायक हैं। माकपा विधायकों का भी राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन मिलने की उम्मीद है। ऐसे में कांग्रेस की स्थिति भाजपा से ज्यादा मजबूत है। इस कारण उसके प्रत्याशी को राज्यसभा चुनाव में जीतने की उम्मीद ज्यादा है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस