नई दिल्ली(एएनआई)। कांग्रेस से निलंबित मणिशंकर अय्यर के पाकिस्तान में दिए गए बयान पर उनकी ही पार्टी के अंदर खलबली मच गई है। कांग्रेस पार्टी सचिव और पूर्व सांसद हनुमंत राव इस मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखेंगे। हनुमंत राव मणिशंकर अय्यर को पार्टी से निकालने की मांग करेंगे।

हनुमंत राव का मानना है कि गुजरात चुनाव में अय्यर के बयान से पार्टी को नुकसान हुआ था। इसके बाद उन्हें निलंबित किया गया, लेकिन फिर भी वह नहीं सुधरे हैं। अब पाकिस्तान में उन्होंने उल्टा बयान दिया है। हनुमंत राव का कहना है कि अय्यर के इस प्रकार के बयान से कांग्रेस को कर्नाटक चुनावों में भी नुकसान हो सकता है। इसलिए अय्यर को तत्काल प्रभाव से पार्टी से निष्कासित कर देना चाहिए।

गौरतलब है कि पूर्व कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्तान के कराची में हुए एक कार्यक्रम में कहा था कि वह पाकिस्तान को उतना ही प्यार करते हैं जितना वह भारत को करते हैं। अय्यर ने यह भी कहा कि पाकिस्तान बातचीत के रास्ते खोलकर रखना चाहता है इसपर उन्हें गर्व है लेकिन भारत सरकार ऐसा नहीं कर रही जिसका उन्हें दुख है।

इस कार्यक्रम में अय्यर ने दोनों देशों के बीच बंद पड़ी बातचीत को फिर से शुरू करने की सलाह भी दी। उन्होंने कहा कि यह वक्त की मांग है। केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए अय्यर ने कहा कि पाकिस्तान तो इसके लिए तैयार है लेकिन भारत सरकार नहीं।

अय्यर ने आगे कहा कि मैं पाकिस्तान से मोहब्बत करता हूं, क्योंकि मैं भारत से प्यार करता हूं। भारत को अपने पड़ोसी देश से उस तरह प्यार करना चाहिए जैसे वह अपने आपसे करता है।' अय्यर ने कहा कि कश्मीर और भारत में होने वाली आतंकवादी घटनाएं वे दो मुख्य समस्याएं हैं जिनसे सबसे पहले निपटा जाना चाहिए। अब अय्यर के इस बयान की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हो रही है।

 

By Sanjeev Tiwari