कोलकाता, एएनआइ। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय जनसँख्या रजिस्टर (NPR) के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री विरोध प्रदर्शन में शामिल हुईं। शनिवार शाम पीएम मोदी से मुलाकात के बाद सीएम ममता बनर्जी ने तृणमूल छात्र परिषद द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। कोलकाता में जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों और तृणमूल छात्र परिषद द्वारा सीएए और एनपीआर पर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की छात्र इकाई के अलावा लेफ्ट के कार्यकर्ता भी राज्य के अलग-अलग हिस्सों में संशोधित नागरिकता अधिनियम (CAA) के खिलाफ अलग-अलग विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। 

पीएम मोदी से मुलाकात कर एनपीआर न लागू करने को कहा: ममता

जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों और तृणमूल छात्र परिषद के विरोध प्रदर्शन में शामिल छात्रों से ममता बनर्जी ने कहा कि मैं एकमात्र ऐसी नेता हूं जिसने नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और उनसे कहा कि सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लागू नहीं किया जा सकता है।

इसके साथ ही ममता ने कहा कि मुझे कई कार्यक्रमों के लिए आमंत्रित किया गया था लेकिन संवैधानिक दायित्व की वजह से मैं सिर्फ मिलेनियम पार्क के कार्यक्रम में ही गई। मैंने पीएम से मुलाकात की और उनसे कहा कि हम सीएए और एनपीआर के खिलाफ हैं।

बता दें कि छात्रों के साथ धरने में बैठने से पहले ममता ने राजभवन में पीएम मोदी से मुलाकात की थी। इस दौरान ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से कहा था कि हम सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ हैं आप इन इनको वापस लें। पश्चिम बंगाल इसके खिलाफ है। इसका जवाब देते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि वो यहां किसी अन्य कार्यक्रम में शामिल होने आए हैं। इस मुद्दे पर दिल्ली में बात होगी।

वहीं, नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) के खिलाफ मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी और भी आक्रामक हो गईं हैं। सीएए और एनआरसी को लेकर ममता अभी तक रैलियां कर केंद्र पर निशाना साधती रही हैं तो वहीं अब ममता ने सीएए और एनआरसी के विरोध में एक गाना लिखा है। इस गाने का शीर्षक है 'अधिकार'। 

मुख्यमंत्री द्वारा लिखे इस गाने को इंद्रनील सेन ने गाया है। मुख्यमंत्री ने इसे फेसबुक पर शेयर किया हैं, जो तृणमूल समर्थकों द्वारा खुब सराहा जा रहा है।  

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस