मुंबई, एएनआइ।Maharashtra Political Crisis, महाराष्ट्र में सीएम की कुर्सी की लेकर खींचतान जारी है। राज्य में जारी राजनीतिक संकट के बीच शिवसेना के नेता संजय राउत को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। मंगलवार को सीने में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था। मुंबई के लीलावती अस्पताल से निकलने के बाद एकबार फिर संजय राउत अपने आक्रामक रुख में दिखे। उन्होंने साफ कहा कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री शिवसेना से ही होगा।

तीन दिनों तक अस्पताल में भर्ती होने के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। संजय राउत को बुधवार दोपहर यहां लीलावती अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। उनकी यहां एंजियोप्लास्टी हुई है।अपनी कार में बैठे थके हुए लेकिन फिर भी अपनी आक्रामक शैली को प्रदर्शित करते हुए राउत ने बलपूर्वक दोहराया कि मुख्यमंत्री शिवसेना से होगा।उन्होंने कांग्रेस और राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी को संदेश देते हुए यह बयान दिया।

इसके साथ ही राउत ने एक अन्यट्वीट करते हुए महाराष्ट्र में शिवसेना की राजनीतिक इच्छाशक्ति को फिर से जाहिर करते हुए लिखा, 'अग्नीपथ..अग्नीपथ..अग्नीपथ

महाराष्ट्र में जारी किस्सा कुर्सी का

महाराष्ट्र में फिलहाल राष्ट्रपति शासन लागू है। महाराष्ट्र में अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए परेशान शिवसेना को कांग्रेस-एनसीपी ने बीच मझधार छोड़ दिया है। महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू होने के साथ मंगलवार को कांग्रेस-एनसीपी ने साफ कर दिया कि शिवसेना के साथ कई बिंदुओं पर स्थित अभी स्पष्ट नहीं हो पाई है लिहाजा जब तक यह बिंदु साफ नहीं हो जाते, शिवसेना के साथ सरकार बनाने पर विचार नहीं किया जाएगा।

राष्ट्रपति शासन लगा, शिवसेना ने वापस ली याचिका

बता दें, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की ओर से राष्ट्रपति शासन की सिफारिश और केंद्रीय मंत्रिमंडल की इसपर मुहर लगने के बाद मंगलवार को राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया है। राज्यपाल द्वारा अधिक समय नहीं दिए जाने से नाराज शिवसेना ने इसके ठीक बाद सुप्रीम कोर्ट में इसके खिलाफ याचिका दायर की थी लेकिन आज शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल अर्जी वापस ले ली है।

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप