नागपुर, प्रेट्र। महाराष्ट्र के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की फोटो लेने पर दो लोगों से पूछताछ की है। आरोपियों ने नागपुर एयरपोर्ट पर पीएम के हेलीकॉप्टर की फोटो ली थी। एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई में एक व्यक्ति के मोबाइल फोन में प्रधानमंत्री के हेलीकॉप्टर की फोटो मिली थी। प्रधानमंत्री मोदी पिछले शनिवार को नागपुर एयरपोर्ट परिसर में बने हेलीपैड से महाराष्ट्र के भंडारा के लिए गए थे। उन्हें सकोली में रैली को संबोधित करना था।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दो लोगों से पूछताछ किए जाने की पुष्टि की। अधिकारी ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि 'बांटो और राज करो' की राजनीति अब अतीत का हिस्सा हो चुकी है। देश के लोगों ने साल 2014 में इसका ट्रेलर दिखा दिया था और इस बार पूरी फिल्म दिखाएगी। उन्‍होंने कहा था कि देश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर मौजूदा सरकार जितना ध्यान दे रही है, उतना तो पहले कभी नहीं दिया गया।

अभी पिछले महीने ही खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी करते हुए कहा था कि जैश के आतंकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अम‍ित शाह पर हमला करने की फिराक में हैं। यही नहीं ये आतंकी भारतीय वायुसेना के ठिकानों के साथ साथ बड़े हवाई अड्डों पर भी हमले कर सकते सकते हैं। रिपोर्टों में कहा गया था कि एजेंसियों के निशाने पर राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी हैं। एजेंसियों ने कहा था कि जैश-ए-मुहम्‍मद ने इस काम के लिए आठ से 10 खूंखार आतंकियों को जिम्‍मेदारी सौंपी है।  

अभी हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी भी दी गई थी। रिपोर्टों की मानें तो धमकी वाला ई-मेल दिल्ली पुलिस आयुक्त के पास आया था। इसी के साथ दिल्ली पुलिस समेत देश की सभी सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट जारी किया गया था। यही नहीं उक्‍त घटनाओं के बाद प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगे गार्डों की संख्या बढ़ा दी गई थी। हालांकि, दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने इस मसले पर आधिकारिक बयान नहीं दिया था। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप