जम्मू-कश्मीर, एएनआइ। Lok Sabha Election 2019 1st Phase: जम्मू-कश्मीर में अलगाववादियों के बंद के बीच लोग लोकतंत्र के उत्सव में बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं। अलगाववादी ताकतों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए मतदाता भारी संख्या में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने मतदान केंद्र पहुंच रहे हैं। मतदान के चार घंटे के भीतर ही जम्मू और बारामूला लोकसभा सीटों पर भारी मतदान देखा गया। 11 बजे तक दोनों सीटों पर 24.66 फीसदी मतदान दर्ज किया गया।

वहीं, जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में कश्मीरी पंडितों के लिए खास बूथ तैयार किया गया है। बारामूला संसदीय क्षेत्र के लिए नगर निगम के हॉल में तैयार विशेष मतदान केंद्र पर कश्मीरी पंडित अपना वोट डाल रहे हैं। अपना वोट डालने के बाद एक मतदाता ने कहा कि हम यहां प्रवासी हैं। वोट देना हमारा कर्तव्य है। हम बारामूला वापस लौटना चाहते हैं।

बता दें कि अलगाववादियों ने कश्मीर में लोकसभा चुनाव के पहले चरण के दौरान बंद का आह्वान किया है। हड़ताल का आह्वान हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेताओं और उनके परिजनों के खिलाफ 'एनआईए की कार्रवाई के विरोध में किया गया है। जम्मू और बारामूला लोकसभा क्षेत्र में पहले चरण का मतदान चल रहा है।

अलगाववादियों ने बुधवार को एक बयान में कहा कि पूरा बंद भारतीय संसदीय चुनावों के खिलाफ है। इसके अलावा उन्होंने जेकेएलएफ के अध्यक्ष मुहम्मद यासीन मलिक के स्थानांतरण सहित एनआईए की आक्रामकता के खिलाफ भी रोष दिखाते हुए बंद का एलान किया है। अलगाववादियों ने मीरवाइज उमर फारूक से कठोर पूछताछ और सैयद अली शाह गिलानी के बेटे को दिल्ली में बार-बार तलब किए जाने को लेकर भी बंद बुलाया है।

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस