कोच्चि, एएनआइ। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी का कहना है कि जिस तरह से केरल के लोगों ने बाढ़ की परिस्थिति का सामना किया, उन्‍हें केरलवासियों पर गर्व है। राहुल गांधी दो दिनों के दौरे पर केरल आए हैं। यहां पहले दिन उन्‍होंने राहत शिविरों में लोगों से बातचीत की और उनका हालचाल जाना। केरल में आई बाढ़ में 400 से ज्‍यादा लोगों की जान जा चुकी है।

केरल बाढ़ पर मीडिया को संबोधित करते हुए बोले राहुल गांधी ने कहा, 'देखिए, केरल की बाढ़ पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। किस वजह से बाढ़ आई मैं इसमें नहीं पड़ना चाहता, इस मुद्दे पर राजनीति करना मेरा मकसद नहीं है। मैंने बड़ी संख्या में राहत शिविरों में लोगों से मुलाकात की है। मैंने केरल के मुख्‍यमंत्री पिनरायी विजयन से बात की है। यह बेहद जरूरी है कि सरकार लोगों को उनके घरों को दोबारा बनाने में सहयोग करे। केरल बाढ़ पीडि़तों के लिए जितने मुआवजे का एलान हुआ है वो जल्द-से-जल्द दिया जाए।' साथ ही राहुल ने कहा कि जिस तरह से केरल के लोगों ने इस परिस्थिति का सामना किया है, मुझे केरल के सभी लोगों पर गर्व है।

राहुल गांधी ने कहा कि मुझे इस बात का दुःख है कि केंद्र सरकार ने उतनी मदद नहीं दी है, जितनी उन्हें देनी चाहिए थी। केंद्र सरकार द्वारा दिए गए समर्थन की सीमा अधिक होनी चाहिए। यह केरल के लोगों के लिए बकाया है। यह उनका अधिकार है। उन्‍होंने कहा कि भारत के दो विजन हैं। पहला केन्द्रित है और दूसरा विकेन्द्रित। एक विजन केवल नागपुर से आने वाली विचारधारा का सम्मान करता है, दूसरा अलग-अलग विचारों की, संस्कृतियों का सम्मान करता है। यह लड़ाई जारी है।

Posted By: Tilak Raj

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस