कोयंबटूर, एजेंसी। पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (PFI) के ठिकानों पर बीते दिन कई राज्यों में छापे मारे गए। टेरर फंडिंग मामले में NIA और ED ने पीएफआइ के कई कार्यकर्ताओं को भी गिरफ्तार किया। इस बीच आज संगठन ने केरल बंद का आह्वान किया है। बंद के कौरान पीएफआई के कार्यकर्ताओं ने राज्य के कई इलाकों में बवाल करते हुए पत्थरबाजी और तोड़फोड़ की है।

भाजपा कार्यालय पर पेट्रोल बम फैंके गए

तमिलनाडु के कोयंबटूर में पीएफआई के कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय पर पेट्रोल बम फैंके हैं। इसके बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने क्षेत्र में प्रदर्शन कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। भाजपा नेताओं ने इसे 'आतंकवादी हमला' बताया है। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस मौके पर पहुंची और प्रारंभिक जांच की।

PFI पर NIA ने की थी बड़ी कार्रवाई

एनआईए ने गुरुवार को पीएफआई की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति के सदस्य इस्माइल को कोयंबटूर से हिरासत में लिया था। एनआईए और प्रवर्तन निदेशालय ने राज्य पुलिस बलों द्वारा संयुक्त रूप से तमिलनाडु सहित पूरे भारत में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के शीर्ष नेताओं और सदस्यों के घरों और कार्यालयों पर संयुक्त रूप से तलाशी तलाशी अभियान चलाया था।

15 राज्यों में पड़े छापे

दोनों एजेंसियों ने गुरुवार को भारत के 15 राज्यों में पीएफआइ के 93 ठिकानों पर तलाशी ली। जिन राज्यों में छापे मारे गए उनमें आंध्र प्रदेश (4), तेलंगाना (1), दिल्ली (19), केरल (11), कर्नाटक (8), तमिलनाडु (3), उत्तर प्रदेश (1), राजस्थान (2), हैदराबाद (5), असम, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गोवा, पश्चिम बंगाल, बिहार और मणिपुर शामिल हैं।

यह भी पढ़ें- छापेमारी के बाद पीएफआइ पर प्रतिबंध लगा सकती है सरकार, सीएए विरोधी आंदोलन और दिल्ली दंगे को लेकर भी है आरोप

Edited By: Mahen Khanna