बेंगलुरु, एएनआइ। कर्नाटक के मंत्री सी टी रवि (C T Ravi) ने गुरुवार को अयोध्या में होने जा रहे 'राम मंदिर निर्माण' को लेकर कांग्रस की तरफ से किए गए ट्वीट पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "कांग्रेस कह रही है कि राम सबसे जुड़े हैं। हां, राम सबसे जुड़े हैं, लेकिन राम मंदिर निर्माण का समय? यह कांग्रेस से नहीं जुड़ा है।" इससे पहले मंगलवार को प्रियंका गांधी वाड्रा की तरफ से इसे लेकर एक ट्वीट किया गया था, जिस पर मंत्री ने प्रतिक्रिया दी है।

प्रियंका ने अपने ट्वीट में कहा था, "सरलता, साहस, संयम, त्याग, वचनवद्धता, दीनबंधु राम नाम का सार है। राम सबमें हैं, राम सबके साथ हैं। भगवान राम और माता सीता के संदेश और उनकी कृपा के साथ रामलला के मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का अवसर बने।" वहीं, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने कहा था कि दिवंगत प्रधानमंत्री राजीव गांधी राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने वाले पहले व्यक्ति थे और यदि कोई भी इसका श्रेय लेने का प्रयास करता है तो यह गलत है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को अयोध्या में 'श्री राम जन्मभूमि मंदिर' में भूमि पूजन किया था। भूमि पूजन से पहले, उन्होंने हनुमान गढ़ी और श्री रामलला विराजमान में 'पूजा' की। उन्होंने आधारशिला रखने के लिए एक पट्टिका का अनावरण किया और 'श्री राम जन्मभूमि मंदिर' पर एक स्मारक डाक टिकट भी जारी किया।

भूमि पूजन के बाद रामनगरी में उल्लास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राम मंदिर भूमि पूजन के बाद गुरुवार को रामनगरी में उल्‍लास का माहौल है। गांवों से लेकर कस्बों तक धार्मिक अनुष्ठान व प्रसाद बांटने का सिलसिला लगातार जारी है। सभी पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करते दिख रहे थे। बुधवार को भूमि पूजन के समय अबीर गुलाल चले तो शाम दीपावाली का नजारा देखने को मिला। वहींं गुरुवार को सुबह से ही हनुमानगढ़ी पर श्रदालुओं की भीड़ नजर आई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस