बेंगलुरु, प्रेट्र। सुप्रीम कोर्ट से गुरुवार को झटका मिलने के बाद कर्नाटक के अयोग्य विधायकों ने शुक्रवार को बैठक कर आगे की रणनीति तय की। कर्नाटक राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन डॉ. के. सुधाकर के आवास पर आयोजित बैठक के बाद बीसी पाटिल ने संवाददाताओं से कहा, 'हमने अपने वकील के माध्यम से सुनवाई के लिए मामले को जल्द लाए जाने पर चर्चा की।

पाटिल व सुधाकर के अलावा बैठक में एमटीबी नागराज, मुनीरत्न, श्रीमंत पाटिल और बायरथी बासवराज उपस्थित थे। नागराज ने कहा कि उन्होंने केस के संबंध में विचार-विमर्श किया और जिन विधानसभा क्षेत्रों का उन्होंने प्रतिनिधित्व किया था, उनकी विकास संबंधी गतिविधियों पर चर्चा की। उन्होंने भाजपा से नाराजगी की अटकलों को खारिज कर दिया।

उल्लेखनीय है कि तत्कालीन विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने बागी 17 विधायकों को अयोग्य करार दिया था। इनमें 13 कांग्रेस, तीन जदएस और एक निर्दलीय शामिल हैं। अयोग्य विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। कोर्ट ने गुरुवार को बागी विधायकों की याचिकाओं को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किए जाने पर आदेश देने से इन्कार कर दिया था।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप