बेंगलुरू, एएनआइ। कर्नाटक कांग्रेस के नेता और पूर्व मंत्री डीके शिव कुमार का सर्मथकों ने शनिवार को बेंगलुरु एयरपोर्ट पर जोरदार स्‍वागत किया। उन्‍हें मनी लांड्रिंग केस में 23 अक्‍टूबर को दिल्‍ली हाईकोर्ट से जमानत मिली थी। उपस्थित लोगों में जेडीएस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी भी शामिल थे। 

कर्नाटक के पूर्व लोकायुक्‍त और सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज संतोष हेगड़े ने कहा कि  भ्रष्ट लोगों का बहिष्कार करने के बजाय, हम उनका सम्मान कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि ईमानदार लोगों का व्यक्तित्व पूजा ठीक है, लेकिन अगर वे भ्रष्ट हैं और उनकी पूजा की जाती है तो यह गलत है।

कर्नाटक कांग्रेस के संकटमोचक

कर्नाटक कांग्रेस के संकटमोचक माने जाने वाले डीके शिवकुमार पर हवाला के जरिए लेनदेन और टैक्स चोरी का आरोप है। प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने उनको तीन सितंबर को गिरफ्तार किया था। वह 25 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में रहे। कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के गठबंधन वाली पिछली सरकार को बनाने का श्रेय जाता है। 23 अक्‍टूबर को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने तिहाड़ जेल जाकर डीके शिवकुमार से मुलाकात की थी।

बेटी की संपत्ति पांच साल में 1 करोड़ से बढ़कर 100 करोड़ हुई 

शिवकुमार की बेटी ऐश्वर्या 22 साल की हैं और मैनेजमेंट ग्रेजुएट हैं। ऐश्वर्या, शिवकुमार द्वारा स्थापित एजुकेशनल ट्रस्ट में ट्रस्टी और प्रमुख व्यक्तिों में से एक हैं। यह ट्रस्ट कई इंजीनियरिंग और अन्य कॉलेजों का संचालन करता है। ऐश्वर्या 2017 में सिंगापुर में कॉफी डे और सोल स्पेस के बीच हुए सौदे का भी हिस्सा थीं। 2018 के चुनावों में शिवकुमार ने हलफनामे में बेटी के नाम पर 108 करोड़ रुपये की संपत्तियां घोषित की थीं, जबकि 2013 के हलफनामे में उन्होंने बेटी के नाम पर सिर्फ 1.1 करोड़ की संपत्ति ही दिखाई थी। यानी की पांच सालों के दौरान उनकी संपत्ति 100 करोड़ के पार पहुंच गई है। इसलिए उनकी बेटी को ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया था। 

नोटबंदी के बाद से तमाम संस्‍थाओं के रडार पर थे डीके शिवकुमार

ज्ञात हो कि कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार 2016 में नोटबंदी के बाद से आयकर विभाग और ईडी के रडार पर थे। उनके नई दिल्ली स्थित फ्लैट पर दो अगस्त 2017 को आयकर विभाग की तलाशी के दौरान 8.59 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की गई थी। इसके बाद आयकर विभाग ने डीके शिव कुमार और उनके चार सहयोगियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस