कोच्चि, एएनआइ। कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता रहे कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने 'हाथ' का साथ छोड़ दिया है। सिब्बल ने सपा के समर्थन से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया है। सिब्बल ने इस दौरान बताया कि उन्होंने कांग्रेस से 16 मई को ही इस्तीफा दे दिया था।

वहीं, सिब्बल द्वारा पार्टी छोड़ने के बाद कांग्रेस नेता ने प्रतिक्रिया दी है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा, 'लोग आते हैं और हमारी पार्टी से चले जाते हैं।' उन्होंने कहा, 'सिब्बल ने पार्टी अध्यक्ष को पहले ही एक पत्र लिखा था। पत्र में कहा गया है कि वह कांग्रेस के मूल्यों में दृढ़ विश्वास रखते थे। उन्होंने और कुछ नहीं कहा। उन्हें अपनी स्थिति बताने दें। तब मैं कह सकता हूं।'

वेणुगोपाल ने आगे कहा कि हमारी पार्टी से लोग आते-जाते हैं। यह एक बड़ी पार्टी है। कुछ लोग पार्टी छोड़ सकते हैं। कुछ अन्य पार्टियों में जा सकते हैं। मैं पार्टी छोड़ने वाले किसी व्यक्ति को दोष नहीं देने जा रहा हूं। वेणुगोपाल ने कहा, 'कांग्रेस के पास एक विशाल स्थान है।'

'एजेंसियों का गलत इस्तेमाल कर रही केंद्र सरकार'

कांग्रेस महासचिव ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार राजनीतिक विरोधियों को खत्म करने के लिए सीबीआइ, खुफिया और अन्य सभी एजेंसियों का उपयोग कर रही है। वे अन्य राजनीतिक दलों को शातिर तरीके से खत्म करने के लिए काम कर रहे हैं जो किसी भी सरकार द्वारा कभी भी इस्तेमाल नहीं किया गया है। ऐसे माहौल में रहना मुश्किल है, लेकिन हमें विश्वास है। कांग्रेस में इससे उबरने की ताकत है। कांग्रेस के पास इसके लिए नेता भी हैं। हम समस्याओं का अध्ययन करेंगे। पार्टी को मजबूत किया जाएगा और शानदार ढंग से आगे बढ़ाया जाएगा।

कपिल सिब्बल ने भरा नामांकन

कपिल सिब्बल ने बुधवार को नामांकन भरते वक्त कहा कि 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर हम सब एक साथ आ रहे हैं। हम एक साथ केंद्र सरकार की कमियों को उजागर करेंगे। सब एक साथ मिलकर जनता के बीच बात रखेंगे।

Edited By: Manish Negi