हैरदाबाद, एजेंसी। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (K Chandrashekar Rao) ने राष्ट्रीय राजनीति में कदम रख लिया है। दशहरा के दिन उन्होंने अपनी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) का नाम बदल दिया है। टीआरएस का नया नाम अब भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) होगा।

तेलंगाना भवन में पार्टी नेताओं की बैठक के बाद इसका एलान किया गया। पार्टी प्रमुख के चंद्रशेखर राव ने घोषणा की कि पार्टी की आम सभा ने सर्वसम्मति से नाम को टीआरएस से बीआरएस में बदलने का संकल्प लिया है।

'देश का नेता केसीआर' के लगे पोस्टर'

पार्टी का नाम बदले जाने के बाद बीआरएस कार्यकर्ता जबरदस्त उत्साह में दिखे। उन्होंने पार्टी अध्यक्ष चंद्रशेखर राव के लिए नारे भी लगाए। इतना ही नहीं, कार्यकर्ताओं ने जमकर पटाखे भी फोड़े और मिठाइयां बांटी। इस दौरान 'टीआरएस और केसीआर जिंदाबाद' के नारे लगे। राजधानी में 'देश का नेता केसीआर' के पोस्टर भी लगे हैं। इसके अलावा पोस्टरों में लिखा है, 'प्रिय भारत, वह आ रहे हैं', 'केसीआर रास्ते पर हैं'

YMCA का केसीआर को समर्थन

इसी बीच, तेलंगाना और आंध्र में पुरुषों का ईसाई संघ (YMCA) ने चंद्रशेखर राव के फैसले का समर्थन किया है। संघ ने कहा कि सीएम अल्पसंख्यकों के विकास के लिए ऐसा कर रहे हैं। एसोसिएशन की तरफ से जारी बयान में कहा गया, 'अल्पसंख्यकों के विकास के लिए सीएम केसीआर की राष्ट्रीय राजनीति में एंट्री का हम स्वागत करते हैं। हम उनके साथ खड़े हैं।'

ये भी पढ़ें:

तेलंगाना के मुख्यमंत्री KCR ने घोषित की अपनी राष्ट्रीय पार्टी, 'भारत राष्ट्र समिति' रखा नाम

VIDEO: लांचिंग से पहले विवादों में घिरी KCR की राष्ट्रीय पार्टी, TRS नेता ने बांटी शराब की बोतलें और मुर्गा

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट