नई दिल्ली, एजेंसियां। केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा को सोमवार को नया राष्ट्रीय अध्यक्ष मिल सकता है। संभावना है कि पार्टी के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की जगह निर्विरोध निर्वाचित हो सकते हैं।

नड्डा के नामांकन के दौरान पार्टी के शीर्ष नेता, कई केंद्रीय मंत्री व भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री पार्टी मुख्यालय पर मौजूद रहेंगे। माना जाता है कि पार्टी अध्यक्ष पद के लिए नड्डा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की पसंद हैं। संगठन का लंबा अनुभव, छात्र राजनीति से राजनीतिक जीवन की शुरुआत, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का समर्थन और स्वच्छ छवि भाजपा अध्यक्ष पद के लिए नड्डा की दावेदारी को मजबूत करते हैं।

सोमवार को ही होगी नामांकन पत्रों की जांच

भाजपा के वरिष्ठ नेता और संगठनात्मक चुनाव प्रभारी राधा मोहन सिंह ने बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए सोमवार को नामांकन दाखिल होंगे। जरूरी हुआ तो मंगलवार को चुनाव कराया जाएगा। तय कार्यक्रम के अनुसार, सुबह 10-12:30 बजे तक नामांकन किया जाएगा। सोमवार को ही नामांकन पत्रों की जांच होगी। सूत्र बताते हैं कि शाम तीन बजे नड्डा को पार्टी अध्यक्ष चुने जाने की औपचारिक घोषणा की जाएगी।

नए अध्यक्ष के चुनाव के साथ ही पार्टी के वर्तमान अध्यक्ष अमित शाह का साढ़े पांच वर्ष से अधिक का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। इस अवधि में भाजपा ने देशभर में अपने आधार का विस्तार किया। शाह का कार्यकाल भाजपा के लिए चुनावों के लिहाज से सर्वश्रेष्ठ माना जाएगा। हालांकि, पार्टी को कुछ विधानसभा चुनावों में झटके भी लगे।

जुलाई में नियुक्त किया गया था कार्यकारी अध्यक्ष

मोदी सरकार 2.0 में शाह के गृहमंत्री बनने के बाद भाजपा ने उनके उत्तराधिकारी के चुनाव की कवायद शुरू कर दी थी। कारण है कि पार्टी में 'एक व्यक्ति, एक पद' की परंपरा रही है। नड्डा को गत वर्ष जुलाई में पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। यह इस बात का संकेत था कि हिमाचल प्रदेश से आने वाले नड्डा संगठन के शीर्ष पद के लिए संभावित पसंद हैं।

वह वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में देश की राजनीति की दृष्टि से महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में पार्टी के चुनाव अभियान के प्रभारी थे। वहां बसपा-सपा के गठबंधन के बावजूद भाजपा ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। भाजपा को प्रदेश की 80 में से 62 सीटों पर जीत मिली। नड्डा मोदी सरकार 1.0 में कैबिनेट मंत्री भी रहे हैं। वह पार्टी के संसदीय बोर्ड सदस्य भी रहे हैं।

शाह ने पार्टी नेताओं और मंत्रियों के साथ की बैठक

संगठनात्मक चुनाव से पहले पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार की शाम केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों समेत पार्टी नेताओं के साथ बैठक की। हालांकि, बैठक के बारे में कुछ भी अधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन सूत्र बताते हैं कि इसमें पार्टी नेताओं को संगठनात्मक चुनाव के बारे में जानकारी दी गई। इस दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी व थावरचंद गहलोत आदि मौजूद रहे।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस