नई दिल्‍ली, एजेंसियां। बॉलीवुड फि‍ल्‍म निर्माता अनुराग कश्यप और अभिनेत्री तापसी पन्नू के खिलाफ आयकर विभाग की ओर से की गई ताजा कार्रवाई को लेकर सियासत तेज हो गई है। इस मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के आरोपों पर सरकार की ओर से शुक्रवार को केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोर्चा संभाला। केंद्रीय वित्त मंत्री ने कहा कि जब हमारी सरकार में आयकर विभाग कर चोरी के मामले में कार्रवाई करता है तो उस पर सवाल उठाए जाते हैं लेकिन साल 2013 में जब इन कलाकारों पर इस मामले में कार्रवाई हुई थी तब किसी ने भी सवाल नहीं उठाया था।  

2013 में इन पर कार्रवाई हुई थी तब मुद्दा क्‍यों नहीं बना 

व्यक्तिगत मामलों पर टिप्पणी करने से इनकार करते हुए केंद्रीय वित्‍त मंत्री ने कहा कि यह जानना राष्ट्रीय हित में है कि क्या कुछ चोरी हो रहा है। निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने कहा- 'मैं किसी मामले का जिक्र नहीं करूंगी और ना व्‍यक्तिगत तौर पर किसी का नाम लूंगी लेकिन जब हमारी सरकार के दौरान ऐसी कार्रवाई होती है तो जानबूझकर सवाल उठाए जाने लगते हैं जबकि साल 2013 में इन लोगों पर कार्रवाई हुई थी तब यह कोई मुद्दा नहीं था! तब इस पर किसी ने कुछ नहीं कहा था लेकिन आज यह मुद्दा है..।' 

सियासत के लिए दोहरा रवैया 

केंद्रीय वित्त मंत्री (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि क्या यह दोहरा रवैया नहीं है। हमें राष्‍ट्रीय हित के लिए जानना चाहिए कि क्‍या कर चोरी की जा रही है। मैं किसी विशेष मामले पर टिप्पणी नहीं कर रही हूं लेकिन यदि यह विशेष नामों से संबंधित है तो मैं पूछना चाहती हूं कि क्या हमें यह सवाल उठाना नहीं चाहिए कि क्या कोई गंभीर गड़बड़ी या चूक की जा रही थी। क्‍या हमें इसके तह तक नहीं जाना चाहिए कि जो किया जा रहा था वह गलत था या नहीं। मैं उनसे कहती हूं कि साल 2013 में भी झांकिये ऐसा तब भी किया गया था। 

तब और अब में क्या बदल गया

इंडियन वीमेंस प्रेस कॉ‌र्प्स (आइडब्ल्यूपीसी) में पत्रकारों से बात करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि साल 2013 में इन नामों पर छापे पड़ना कोई मुद्दा नहीं था। आज इसे मुद्दा बनाया जा रहा है। तब और अब में क्या बदल गया है। देशहित में क्या यह नहीं जानना चाहिए कि कोई कर चोरी हो रही है या नहीं। उन्होंने कहा, 'अगर मामला किसी नाम का है, तो मैं जानना चाहती हूं कि हमें मामले की गंभीरता पर विचार करना चाहिए। कृपया पन्ने पलटिए, 2013 में भी ऐसा हुआ था। हालांकि, उन्होंने उस समय के छापे के नतीजों और पिछले सात साल में इस संबंध में हुई कार्रवाई का जिक्र नहीं किया।

राहुल ने सरकार पर साधा था निशाना 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अनुराग कश्यप और अभिनेत्री तापसी पन्नू समेत कुछ अन्‍य फिल्म निर्माताओं के घरों और कार्यालयों पर आयकर विभाग की छापेमारी को लेकर गुरुवार को मुहावरों का जिक्र करते हुए सरकार पर निशाना साधा था। राहुल ने ट्वीट किया था, 'कुछ मुहावरे हैं जैसे उंगलियों पर नचाना-  केंद्र सरकार आयकर विभाग, ईडी, सीबीआई के साथ यह काम करती है। मुहावरा भीगी बिल्ली बनना- केंद्र सरकार के सामने मित्र मीडिया। मुहावरा नंबर तीन खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे- केंद्र सरकार किसान समर्थक हस्तियों पर छापेमारी कराती है।' 

छापेमारी की जद में कई बड़ी हस्तियां

उल्‍लेखनीय है कि आयकर विभाग ने फिल्मकार अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) और बॉलीवुड अभिनेत्री तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) उनके साझेदारों के घरों और कार्यालयों पर बुधवार को छापेमारी की थी। आयकर विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने बताया था कि ये छापे आयकर चोरी की जांच का हिस्सा हैं। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक आयकर विभाग की ओर से की गई यह छापेमारी मुंबई और पुणे में 30 स्थानों पर की गई थी। बताया जाता है कि इस छापेमारी की जद में कई बड़ी हस्तियां आई हैं। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021