दुबई, प्रेट्र। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि वे यहां अपने मन की बात करने नहीं आए हैं, बल्कि लोगों से उनकी समस्याएं सुनने आए हैं। संयुक्त अरब अमीरात की पहली यात्रा पर पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष का गुरुवार रात को प्रवासी भारतीयों ने दुबई हवाई अड्डे पर गर्मजोशी से स्वागत किया।

राहुल ने यहां भारतीय कामगारों को संबोधित किया और यूएई के विकास में उनके योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा कि मेरी पार्टी आपकी समस्याओं से अवगत है और आपकी मदद करना चाहती है। मैं यहां अपने मन की बात करने नहीं आया हूं। मैं यहां आपके मन की बात सुनने आया हूं। राहुल का इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मासिक रेडियो संबोधन की तरफ था, जिसमें वे कई मुद्दों पर चर्चा करते हैं। उन्होंने कहा कि साल 2019 सहिष्णुता का साल है, लेकिन पिछले साढ़े चार साल से भारत में असहिष्णुता का दौर रहा है।

राहुल ने कामगारों से कहा कि यहां जो भी विकास दिखता है, जैसे-ऊंची इमारतें, बड़े हवाई अड्डे और मेट्रो, इन सबमें आपका योगदान है। आपने इसके लिए खून-पसीना बहाया है और सभी वर्ग के भारतीयों को गौरवान्वित किया है। हर धर्म, हर प्रदेश, हर जाति का नाम आपने रोशन किया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि दूसरे लोगों की तरह मैं भी एक आम आदमी हूं और हमेशा आपके साथ खड़ा रहूंगा। उन्होंने कहा कि लड़ाई शुरू हो चुकी है और हम इसमें जीतेंगे।

राहुल गांधी ने कहा कि जैसे ही हमारी सरकार सत्ता में आएगी, हम आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देंगे। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का दो जून 2014 को विभाजन कर दो अलग राज्य बना दिए गए थे। 

इससे पहले राहुल ने शुक्रवार सुबह नाश्ते पर संयुक्त अरब अमीरात में मौजूद भारतीय मूल के प्रमुख कारोबारियों से मुलाकात की। उनके साथ केरल कांग्रेस के नेता ओमान चांडी और प्रवासी भारतीय कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा भी आए हुए हैं। दुबई और अबु धाबी में उनके यूएई के कुछ मंत्रियों से भी मिलने का कार्यक्रम है।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप