बलौदाबाजार, जेएनएन। छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले में सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी की महिला विधायक की महिला आईपीएस अफसर से विवाद वाला एक वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में दोनों के बीच जमकर नोकझोंक नजर आ रही है। विधायक जहां अपने कार्यकर्ताओं का पक्ष लेती दिख रही हैं, तो वहीं आईपीएस नियम-कानून के तहत अपना काम करने की दलील दे रही हैं। इस बढ़ते विवाद के बीच विधायक गुस्से से फट पड़ीं, तो जवाब में महिला आईपीएस ने दो टूक कह दिया कि जहां फोन लगाना हैं, लगा लें……।

आक्रोशित ग्रामीण मुआवजे को लेकर कर रहे थे प्रदर्शन 

दरअसल, मामला बुधवार रात का है। जिले की एक सीमेंट फैक्ट्री में कार्यरत एक मजदूरी की मौत हो गई। परिजन और ग्रामीण मुआवजे को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। बताया जा रहा है कि मजदूर को मुआवजा दिलाने कसडोल विधायक शकुंतला साहू भी अपने समर्थकों के साथ मौके पर पहुंच गई। लोग प्रबंधक के खिलाफ जोरदार नारेबाजी करने लगे। आंदोलन की सूचना पर ट्रेनी आईपीएस अंकिता शर्मा पुलिस बल के साथ पहुंचीं। इस दौरान आक्रोशित ग्रामीण मुआवजे को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे।

औकात दिखा देने की धमकी

इस पर अंकिता शर्मा ने नसीहत दी कि प्रदर्शन शांतिपूर्ण करें, किसी को चोट नहीं पहुंचनी चाहिए। इस बात को कार्यकर्ता ने विधायक शकुंतला को बताया। इतना सुनते ही विधायक शकुंतला आईपीएस से भिड़ गईं और औकात दिखा देने की धमकी दे डाली।

धमकी पर आईपीएस ने कहा कि मैंने कुछ गलत नहीं बोला। आप इस तरह से किसी पुलिस वाले को नहीं बोल सकते। मैं यहां अपनी ड्यूटी करने आई हूं। मैं आपसे विनम्रता से बात कर रही हूं और आप मुझे औकात दिखाने की बात कर रही है। आपको जिससे बात करनी है कर लो। 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस