नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। गिलगिट बाल्टिस्तान से लेकर सिं‍ध तक में हो रहे विरोध प्रदर्शन में फंसे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर से दक्षिण एशिया में परमाणु युद्ध होने की धमकी दी है। इस बार इमरान खान ने एक भारतीय मीडिया हाउस के प्रमुख एंकर के वाट्सएप चैट के सार्वजनिक होने को आधार बनाया है। अपने खिलाफ समूचे विपक्ष के एकजुट होने से परेशान इमरान पहले भी भारत के साथ परमाणु युद्ध होने की धमकी देकर विश्व बिरादरी को ब्लैकमेल करने की कोशिश कर चुके हैं। 

कहा, भारत को उसके अनियंत्रित सैन्य एजेंडा को लागू करने से रोका जाना चाहिए

इमरान से पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने रविवार को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर उक्त वाट्सएप चैट पर कुछ इसी तरह की प्रतिक्रिया जताई थी। इमरान ने सोमवार सुबह अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, अंतरराष्ट्रीय बिरादरी को भारत को उसके अनियंत्रित सैन्य एजेंडा को लागू करने से पहले रोकना चाहिए। नहीं तो मोदी सरकार का दिखावा पूरे क्षेत्र को एक ऐसे संघर्ष वाले क्षेत्र में बदल देगा, जिस पर किसी का नियंत्रण नहीं रहेगा।

उन्होंने यह भी लिखा है कि भारत के मीडिया ने उस गठबंधन का पर्दाफाश किया है, जिसकी वजह से परमाणु हथियार संपन्न इस क्षेत्र में संघर्ष हो सकता है। इस तरह के संघर्ष को यह क्षेत्र नहीं सहन कर सकता। उन्होंने वर्ष 2019 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में दिए गए अपने भाषण को भी याद किया है। सनद रहे कि उस भाषण में भी इमरान ने विश्व बिरादरी के समक्ष कुछ इसी तरह की बात की थी। तब भारत ने इसे पाकिस्तानी पीएम का विश्व बिरादरी को ब्लैकमेल करने का तरीका करार दिया था।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप