Move to Jagran APP

Hubli Murder Case: 'लव जिहाद का मामला लेकिन आरोपियों को बचा रहे सीएम', नेहा मर्डर केस पर बीजेपी का कांग्रेस पर हमला

Hubli Murder Case हुबली स्थित बीवीबी कॉलेज कैंपस में गुरुवार (18 अप्रैल) को कांग्रेस पार्षद निरंजन हिरेमथ की 23 साल की बेटी नेहा हिरेमथ की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। नेहा एमसीए फर्स्ट ईयर की छात्रा थीं। उसी कॉलेज के एक ड्रॉपआउट स्टूडेंट फैयाज खोंडुनाईक (23) ने नेहा के गले पेट सहित शरीर पर चाकू से 7 हमले किए।

By Agency Edited By: Piyush Kumar Sun, 21 Apr 2024 01:10 PM (IST)
हुब्बाली में कांग्रेस के निगम पार्षद की बेटी की हत्या पर राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया है।(फोटो सोर्स: जागरण)

एएनआई, बेल्तांगढी। कर्नाटक के हुब्बाली में कांग्रेस के निगम पार्षद की बेटी की हत्या का मामला अब राजनीतिक विवाद में बदल चुका है। कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस और विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है। भाजपा ने इस हत्या के मामले को लव जिहाद बताया है, जबकि कांग्रेस पार्टी ने इस आरोप से इनकार किया है।

फैयाज ने की थी नेहा की हत्या

बता दें कि हुबली स्थित बीवीबी कॉलेज कैंपस में गुरुवार (18 अप्रैल) को कांग्रेस पार्षद निरंजन हिरेमथ की 23 साल की बेटी नेहा हिरेमथ की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। नेहा एमसीए फर्स्ट ईयर की छात्रा थीं। उसी कॉलेज के एक ड्रॉपआउट स्टूडेंट फैयाज खोंडुनाईक (23) ने नेहा के गले, पेट सहित शरीर पर चाकू से 7 हमले किए। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसमें फैयाज नेहा पर हमला करता हुआ दिखा।

यह लव जिहाद का मामला: भाजपा

सूत्रों के मुताबिक, कर्नाटक बीजेपी इस घटना को लेकर राज्य भर में विरोध प्रदर्शन कर सकती है। भाजपा अध्यक्ष बीवाई विजयेंद्र ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि प्रथम दृष्टया यह लव जिहाद का मामला लगता है। इसलिए जांच में पड़ने के बजाय सीएम दोषियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं।

कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया ने हालात पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जो भी हत्या हुई वह निजी कारणों से हुई। कर्नाटक में कानून व्यवस्था की स्थिति बहुत अच्छी है, कानून व्यवस्था बनाए रखना हमारा कर्तव्य है और हम ऐसा कर रहे हैं।

पीड़िता के पिता ने क्या कुछ बताया

कांग्रेस पार्षद और मृतक के पिता, निरंजन हिरेमथ ने कहा, "जब मेरी बेटी कॉलेज से लौट रही थी, तब एक अज्ञात व्यक्ति आया और उसे सात बार चाकू मारा और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आरोपी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया है।"

निरंजन हिरेमथ ने आगे कहा कि हत्या का मकसद यह है कि पीड़िता ने आरोपी के प्रेम प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया था। घटना होने से पहले हमारी आरोपी से बातचीत हुई थी, जहां हमने उसे समझाया था कि हम हिंदू हैं और आप मुस्लिम हैं, इसलिए हम आपको शादी करने की अनुमति नहीं दे सकते।

यह भी पढ़ें: Hubli Murder Case: सोशल मीडिया पर बेटी की फर्जी तस्वीरें वायरल होने से पिता दुखी, बोले- जांच सही दिशा में नहीं हुई तो...