नई दिल्ली, पीटीआइ। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह अगले कुछ दिनों में जम्मू-कश्मीर, गोवा, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह और उत्तराखंड का दौरा करेंगे। गृहमंत्री अगले एक पखवाड़े में इनसभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में पहले से तय किए गए कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। गृह मंत्रालय से जुड़े अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। शाह पहले फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला का उद्घाटन करने के लिए 14 अक्टूबर को गोवा का दौरा करेंगे और राज्य सरकार के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृहमंत्री 15 से 17 अक्टूबर तक अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में रहेंगे और अपने दौरे के दौरान द्वीपसमूह में विभिन्न विकास पहलों का जायजा लेंगे। उनके सेलुलर जेल का दौरा करने और वहां 'आजादी का अमृत महोत्सव' से संबंधित कार्यक्रमों में भाग लेने की उम्मीद है।

अधिकारी ने कहा कि शाह केंद्र सरकार के मेगा आउटरीच कार्यक्रम के तहत 23 से 25 अक्टूबर तक तीन दिनों के लिए जम्मू-कश्मीर जाएंगे, जिसमें 70 केंद्रीय मंत्री केंद्र शासित प्रदेश का दौरा कर रहे हैं। अपनी यात्रा के दौरान शाह कश्मीर घाटी और जम्मू क्षेत्र के सुदूर इलाकों का दौरा करेंगे और विभिन्न विकास पहलों का जायजा लेंगे।

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि गृहमंत्री केंद्रशासित प्रदेश प्रशासन, पुलिस, अर्धसैनिक बल और सेना के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय कानून व्यवस्था बैठक में भी शामिल होंगे। कई केंद्रीय मंत्री पहले ही केंद्र शासित प्रदेश का दौरा कर चुके हैं जबकि कई अन्य के दौरे पाइपलाइन में हैं। अधिकारी ने बताया कि शाह 30 अक्टूबर को उत्तराखंड का भी दौरा करेंगे, जिस दौरान वह राज्य सरकार के शीर्ष पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में लोकतंत्र की मजबूती और पार्टी को जमीनी सतर पर मजबूत करने के लिए भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व पूरी ताकत झोंक रहा है। प्रदेश की जनता का विश्वास जीतने के लिए इन दिनों जन पहुंच कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य जनता का विश्वास जीतना और प्रदेश प्रशासन के अधिकारियों को जनता के प्रति संवेदनशील बनाना है।