मुंबई, जेएनएन। दिवंगत वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गुरुदास कामत का गुरुवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। लेकिन, गुरुदास कामत के अंतिम संस्कार के दौरान विचित्र संयोग देखने को मिला। दरअसल, 9 साल पहले गुरुदास के हाथों जिस शवदाह गृह का उद्घाटन हुआ था। ठीक उसी दिन और उसी शवदाह गृह में कामत का अंतिम संस्कार किया गया। 

कामत ने 23 अगस्त 2009 को उपनगरीय चेंबूर में पुनर्निर्मित चरई शवदाह गृह का उद्घाटन किया था जो उनके आवास से एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कामत ने केंद्रीय राज्य मंत्री रहते इस शवदाह गृह का उद्घाटन किया था।

एक आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने तस्वीर ट्वीट कर इस संयोग के बारे में बताया।

गौरतलब है कि पांच बार सांसद और केंद्रीय मंत्री रहे चुके गुरुदास कामत को बुधवार को दिल का दौरा पड़ा था। जिसके बाद दिल्ली के निजी अस्पताल में उनका निधन हो गया था। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस