नई दिल्ली (प्रेट्र)। एक तरफ जहां पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का सिलसिला लगातार जारी है, वहीं दूसरी तरफ इसको लेकर सियासत भी तेज हो गई है। विपक्षी दल सरकार को इस मुद्दे पर घेरने की कोशिश कर रहे हैं। इसी बीच पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि अगर सरकार चाहे तो एक लीटर पेट्रोल की कीमत में 25 रुपये तक कमी आ सकती है। चिदंबरम ने दावा किया है कि यह कटौती आसानी से की जा सकती है, लेकिन सरकार अपने फायदे के लिए इस दिशा में कोई कदम उठाना नहीं चाहती है।

चिदंबरम ने ट्वीट के जरिए सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा, 'यह संभव है कि पेट्रोल की कीमतों में 25 रुपये प्रति लीटर की कमी कर दी जाए, लेकिन सरकार ऐसा नहीं करेगी। वह पेट्रोल की कीमत में एक या दो रुपये की कमी करके जनता को धोखा देगी।' चिदंबरम ने अपने अगले ट्वीट में लिखा, 'कच्चे तेल की कीमतों में कमी के कारण सरकार हर लीटर पर 15 रुपये बचा रही है, जिसके बाद इस पर 10 रुपये का अतिरिक्त टैक्स लगा रही है।'

बता दें कि बीते 10 दिनों में पेट्रोल और डीजल दोनों में 2 रुपये से ज्यादा का इजाफा हो चुका है। पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर सरकार भी चिंता जता चुकी है और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भरोसा भी दिलाया है कि वो जल्द ही इसका कोई समाधान पेश करेंगे।

कर्नाटक चुनाव के मद्देनजर सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को 24 अप्रैल 2018 से अगले 20 दिनों तक अपरिवर्तित रखा था। गौरतलब है कि 16 जून 2017 से ही पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रोजाना संशोधन हो रहा है। इससे पहले सरकारी तेल विपणन कंपनियां ईंधन की कीमतों की महीने में दो बार समीक्षा किया करती थीं।

Posted By: Arti Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस