जागरण संवाददाता, जयपुर। करीब चार माह बाद अशोक गहलोत मंत्रिपरिषद की बैठक सोमवार को सुबह 12 बजे जयपुर स्थित शासन सचिवालय में होगी। इससे पहले 26 जून को गहलोत मंत्रिपरिषद की बैठक हुई थी। सीएम अशोक गहलोत ने अगस्त माह में प्रत्येक बुधवार को मंत्रिपरिषद की बैठक करने का निर्णय लिया था, लेकिन उनके इस निर्णय का पालन नहीं हो सका और डेढ़ माह बाद अब सोमवार को बैठक होगी।

स्थानीय निकाय चुनाव को लेकर निर्णय हो सकता है

बैठक में स्थानीय निकाय चुनाव को लेकर निर्णय हो सकता है। नवंबर माह में स्थानीय निकाय चुनाव होने है। वर्तमान में सभी स्थानीय निकायों में महापौर एवं सभापति का चुनाव प्रत्यक्ष रूप से होता है, लेकिन लोकसभा चुनाव में हार के बाद अब कांग्रेस को इस बात का भय सताने लगा है कि प्रत्यक्ष चुनाव कराए जाने से पार्टी को नुकसान हो सकता है।

महापौर एवं सभापति का चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से कराने पर बल

शहरों में भाजपा की मजबूत पकड़ होने के कारण अधिकांश कांग्रेसी विधायक और नेता प्रत्यक्ष के स्थान पर अप्रत्यक्ष रूप से महापौर एवं सभापति का चुनाव कराने की बात मुख्यमंत्री को कह चुके है। इन नेताओं का तर्क है कि अप्रत्यक्ष रूप से चुनाव कराने पर पार्षद सभापति एवं महापौर का चुनाव करेंगे। पहले पार्षद का चुनाव होने पर कांग्रेस विधायक एवं नेता सही ढंग से मैनेज कर सकेंगे।

प्रत्यक्ष तौर पर चुनाव कराने से नुकसान हो सकता है

कांग्रेस के नेताओं का मानना है कि पार्टी के पार्षद तो अधिक संख्या में जीत सकते है, लेकिन प्रत्यक्ष तौर पर महापौर एवं सभापति का चुनाव कराने से नुकसान हो सकता है। सोमवार को होने वाली बैठक में स्थानीय निकाय चुनाव को लेकर निर्णय होगा।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप