Menu
  • Epaper
  • Hindi News
  • Subscribe
अपने पसंदीदा टॉपिक्स चुनें close

LIVE: मध्य प्रदेश में कौन बनेगा मुख्यमंत्री, राहुल गांधी करेंगे फैसला

Wed, 12 Dec 2018 06:45 PM (IST) | Vikas Jangra

HIGHLIGHT

  1. राजस्थान में कांग्रेस 99 के फेर में, निर्दलियों के समर्थन पर टिका दारोमदार
  2. मध्यप्रदेश में कांग्रेस बहुमत के आंकड़े से दो कदम दूर, बसपा-सपा का मिला साथ
  3. छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की दमदार वापसी, पूर्वोत्तर में मिजोरम से हुई विदाई

मंगलवार को पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे आए हैं। छत्तीसगढ़ में जहां 15 साल बाद कांग्रेस ने दमदार वापसी की है तो वहीं पूर्वोत्तर से उसकी विदाई हो गई है। मिजोरम में कांग्रेस को मिजो नेशनल फ्रंट से कड़ी टक्कर मिली है। तेलंगाना में TRS के के. चंद्रशेखर राव का समय से विधानसभा चुनाव कराने का दांव कामयाब रहा। टीआरएस की आंधी में भाजपा और कांग्रेस दोनों को शिकस्त मिली है। बात करें मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की तो यहां कांग्रेस ने बहुमत का जादुई आंकड़ा नहीं छुआ है। मध्यप्रदेश में सपा-बसपा के समर्थन से उसकी सत्ता की राह आसान हो गई है तो राजस्थान में कांग्रेस के बागी जो कि निर्दलीय के रूप में जीतकर आए हैं, पार्टी को सत्ता तक पहुंचाने में मदद करेंगे।

12 Dec,2018
  • 06:35 PM

    कांग्रेस नेता शोभा ओझा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि राहुल गांधी कांग्रेस विधायक दल के नेता का चुनाव करेंगे। पार्टी विधायकों ने राहुल गांधी पर फैसला छोड़ा है।

     

  • 03:52 PM

    शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा देने के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि मैंने मुख्यमंत्री नहीं, परिवार के रूप में काम किया। जब हमने मध्यप्रदेश में सत्ता संभाली थी, तब स्थिति बेहद खराब थी। मध्य प्रदेश की स्थिति को सुधारने के लिए भरसक प्रयास किये। लोगों के लिए कल्याणकारी योजना चलवायीं। मेरे किसी काम या किसी शब्द से कभी आपको (मध्यप्रदेश की जनता) को कष्ट हुआ हो तो उसके लिए में क्षमा मांगता हूँ।

  • 03:43 PM

    पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कई बार जनादेश का गणित बिल्कुल अलग हो जाता है। सच है कि हम बहुमत प्राप्त नहीं कर सके और अपेक्षित सफलता नहीं मिली। इसके लिए जिम्मेदार केवल मैं हूं। व्यक्तियों के बदलने के साथ लोगों के कल्याण की योजनाएं नहीं बदलनी चाहिए। नई सरकार में एक आग्रह करना चाहता हूं। हमने जनता की योजना में जो योजनाएं बनाईं, उन्हें जारी रखे। चुनाव के दौरान कांग्रेस ने जो वादे जनता से किये थे वो उनको पूरा करेगी। कांग्रेस ने दस दिन के अंदर किसानों का क़र्ज़ माफ़ करने को कहा था।

  • 01:51 PM

    मध्‍यप्रदेश कांग्रेस के नेता कमलनाथ, पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने पहुंचे हैं।  बता दें कि मध्यप्रदेश में कमलनाथ को भावी मुख्‍यमंत्री के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि इस बीच सचिन पायलट की नाराजगी की खबरें सुनने को मिल रही हैं।  

  • 01:22 PM

    शिवराज सिंह के बेटे कार्तिकेय सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश की जनता ने 15 साल भारतीय जनता पार्टी को सत्ता में बनाए रखा। जनता ने अब विपक्ष की एक महत्वपूर्ण जिम्मेदारी हमें दी है। यह जनादेश सर आंखों पर सत्ता में रहना जरूरी नहीं है, अगर जरूरी कुछ है तो वह लोगों की सेवा करना हम एक दमदार विपक्ष के माध्यम से लोगों की सेवा करेंगे। 

  • 01:13 PM

     राजस्थान में विधायक दल की बैठक ख़त्म हो गई है। राजस्थान का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इसका फैसला आलाकमान पर छोड़ा गया है।

  • 12:59 PM

    मध्‍यप्रदेश के राज्‍यपाल से मिलने के बाद नरेंद्र सलूजा ने दावा किया कि उन्‍हें 122 विधायकों का समर्थन प्राप्‍त है। कांग्रेस की राह में कोई रोड़ा नहीं है। मध्‍यप्रदेश में कांग्रेस ने राज्‍यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया है।

  • 12:41 PM

    राजस्थान में विधायक दल की बैठक शुरू
    राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की बैठक शुरू हो गई है। बैठक में भावी मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा की जारी है। बता दें कि सीएम बनने की रेस में सचिन पायलट और अशोक गहलोत का नाम है। हालांकि, दोनों ही नेता कह चुके हैं कि पार्टी हाईकमान यानि राहुल गांधी का फैसला उन्हेें मंजूर होगा। वहीं, दफ्तर के बाहर सचिन पायलट और अशोक गहलोत के समर्थक शक्ति प्रदर्शन कर रहे हैं। दोनों के ही समर्थक उनके नेता को सीएम बनाने की मांग कर रहे हैं। 

  • 12:13 PM

    शरद पवार ने कहा- 2019 में सपा-बसपा भी हो सकते हैं गठबंधन के साथी
    राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ने सपा-बसपा के समर्थन देने के ऐलान का स्वागत किया है और 2019 के महागठबंधन के लिए भी साथ देने की उम्मीद जताई है। पवार ने कहा, 'भाजपा के विकल्प के रूप में कांग्रेस ने एक अहम भूमिका निभाई है। कांग्रेस, का रुख अन्य पार्टियों का साथ लेने का रहा। बसपा और सपा भी भी हमारे गठबंधन के साथी होने चाहिएं। हालांकि, अभी वे हमारे साथ नहीं हैं।' भाजपा की हार पर पवार ने कहा कि लोगों ने साढ़े चार के (केंद्र में) भाजपा राज के प्रति नाराजगी जाहिर की है। 

  • 12:03 PM

    इस्तीफे के बाद शिवराज ने पढ़ीं अटल जी की कविता
    राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की कविता की पंक्तियां दोहराई। उन्होंने कहा, 'ना हार में, ना जीत में, किंचित नहीं भयभीत मैं; कर्तव्य पथ पर जो भी मिले, ये भी सही, वो भी सही।' इससे पहले शिवराज सिंह ने कहा कि अब मैं मुक्त हो गया हूं। हार की पूरी जिम्मेदारी लेता हूं। 

  • 11:57 AM

    1 बजे शिवराज से मिलेंगे कमलनाथ
    मध्यप्रदेश में 4 बजे विधायक दल की बैठक होगी, जिसमें प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री चुना जाएगा। कांग्रेस नेता शोभा ओझा ने बताया कि इससे पहले दोपहर 1 बजे प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलेंगे। 

  • 11:53 AM

    राजस्थान में वसुंधरा के 15 मंत्री और कांग्रेस के कई दिग्गज हारे

    राजस्थान में वसुंधरा राजे सरकार के दो तिहाई मंत्री और पांच संसदीय सचिव चुनाव हार गए। विधानसभा के उपाध्यक्ष राव राजेंद्र सिंह भी सीट नहीं बचा पाए। वसुंधरा सरकार में 29 मंत्री थे, इनमें से 23 को फिर मौका दिया गया, वहीं 6 के टिकट काटे गए थे। दो मंत्रियों नंदलाल मीणा और जसवंत यादव के पुत्रों को मैदान में उतारा गया था। 
    उधर, कांग्रेस की दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. गिरिजा व्यास, कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य रघुवीर मीणा और मानवेंद्र सिंह की भी पराजय हुई। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव हरीश चौधरी जीत गए हैं। 

  • 11:53 AM

    राजस्थान में भाजपा के ये दिग्गज हारे 
    भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी, परिवहन मंत्री यूनुस खान, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरण चतुर्वेदी, कृषिषमंत्री प्रभुलाल सैनी, उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत, खानमंत्री सुरेंद्र पाल, सिंचाई मंत्री डॉ. रामप्रताप, वन मंत्री गजेंद्र सिंह खींवसर, चिकित्सा राज्यमंत्री बंशीधर, स्वायत्त शासन मंत्री श्रीचंद कृपलानी, गोपालन मंत्री ओटाराम, खाघ मंत्री बाबूलाल वर्मा, सहकारिता मंत्री अजय सिंह, राजस्व मंत्री अमराराम, जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्यमंत्री कमसा मेघवाल और पर्यटन मंत्री कृष्णेंद्र कौर दीपा चुनाव हार गए हैं। संसदीय सचिवों में लादूराम, विश्वनाथ, भैराराम, कैलाश वर्मा एवं भीमा भाई को पराजय का मुंह देखना पड़ा है। दिग्गज मीणा नेता किरोड़ीलाल मीणा की पत्नी गोलमा देवी भी चुनाव हार गई। टिकट मिलने से एक घंटे पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाली राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ममता शर्मा भी चुनाव हार गई। 

     

  • 11:37 AM

    सपा ने भी किया समर्थन का ऐलान
    बसपा के साथ ही समाजवादी पार्टी ने भी मध्यप्रदेश में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया है। बता दें कि मध्यप्रदेश में समाजवादी पार्टी का एक विधायक और बसपा के दो विधायक जीतकर आए हैं। कांग्रेस को बहुमत का आंकड़ा छूने और सरकार बनाने के लिए दो विधायकों के समर्थन की जरूरत है। 

  • 11:27 AM

    मध्यप्रदेश में कांग्रेस की राह आसान, पेश करेगी सरकार बनाने का दावा
    मध्यप्रदेश में सरकार बनाने की राह में कांग्रेस को जो मुश्किल सामने आने वाली थी, उसे बसपा के समर्थन के ऐलान ने आसान कर दिया है। प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से दोपहर बारह बजे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और विवेक तन्खा मुलाकात करने पहुंचेगें और सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे।

  • 11:24 AM

    मायावती के ऐलान के बाद शिवराज का इस्तीफा
    बसपा प्रमुख मायावती के कांग्रेस को समर्थन के ऐलान के बाद भाजपा की सरकार बनाने की संभावनाएं खत्म हो गईं। जिसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया। पूरी ख़बर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

  • 11:22 AM

    सरकार बनाने के लिए कांग्रेस को समर्थन देगी बसपा
    मध्‍यप्रदेश और राजस्‍थान में कांग्रेस की मुश्किलें कम होती नजर आ रही हैं। बसपा प्रमुख मायावती ने मध्‍यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी को समर्थन देने का एलान कर दिया है। मायावती का कहना है कि वह भारतीय जनता पार्टी को रोकने के लिए कांग्रेस का समर्थन करने जा रही हैं। साथ ही उन्‍होंने कहा कि भाजपा को अपनी गलत नीतियों के कारण हार का सामना करना पड़ा है। पूरी ख़बर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

  • 11:19 AM

    वनवास खत्म, सरकार बनाने में जुटी कांग्रेस
    पंद्रह साल पुरानी भाजपा सरकार को पीछे धकेलते हुए कांग्रेस ने सत्ता का वनवास समाप्त कर लिया। कांटे के मुकाबले में कांग्रेस ने भाजपा से पांच सीटों की बढ़त हासिल की है। अब उसे बसपा, सपा और निर्दलीय विधायकों के सहारे सत्ता की राह तलाशनी है। 

     

भारत बनाम दक्षिण अफ्रीकातीसरा टेस्ट

दक्षिण अफ्रीका

162/10& 132/8

(over : 46.0)

भारत

497/9

(over : 116.3)

स्टंप्स

ज्यादा पठित

Loading...
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK