नई दिल्‍ली, आइएएनएस। दिग्विजय सिंह अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहते हैं। इस बार वह जम्‍मू-कश्‍मीर पर बयान देकर विवादों में घिर गए हैं। ऐसे में भाजपा ने उनपर हमला करना शुरू कर दिया है। भाजपा का दावा है कि दिग्विजय सिंह ने क्‍लब हाउस पर चैट के दौरान कांग्रेस के सत्‍ता में आने पर जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 पर पुनर्विचार करने को कहा है। सोशल मीडिया पर ये मुद्दा गरमा गया है। दिग्विजय ने इस मुद्दे पर ट्वीट कर विपक्षियों की समझ पर सवाल उठाया है। भाजपा प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने पूछा है कि क्‍या कांग्रेस पार्टी का भी इस मुद्दे पर यही स्‍टेंड है? राहुल गांधी को जल्‍द से जल्‍द ये स्‍पष्‍ट करना चाहिए। हालांकि, कांग्रेस की ओर से इस बारे में अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने दिग्विजय सिंह को इस मुद्दे को उठाने के लिए शुक्रिया कहा है।

दिग्विजय सिंह की क्लब हाउस चैट पर टिप्पणी करते हुए नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने कहा, 'मैं (कांग्रेस नेता) दिग्विजय सिंह जी का बहुत आभारी हूं। उन्होंने लोगों की भावनाओं को अन्य पार्टियों के रूप में महसूस किया है, जिन्होंने इसके बारे में भी बात की है। मैं इसका दिल से स्वागत करता हूं। साथ ही उम्मीद करता हूं कि सरकार इस पर फिर से गौर करेगी।'

जम्‍मू-कश्‍मीर से आर्टिकल 370 हटाने का मुद्दा काफी संवेदनशील है। इसलिए विपक्षी दल के नेता भी इस पर बयान देने से बचते रहे हैं। बताया जा रहा है कि दिग्विजय सिंह की क्‍लब हाउस पर चैट में एक पाकिस्‍तानी पत्रकार भी शामिल था। ऐसे में भाजपा को कांग्रेस पर हमला करने का अच्‍छा मौका मिल गया है। भाजपा के सोशल मीडिया प्रमुख अमित मालवीय ने क्लब हाउस चैट का एक हिस्सा ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा- 'क्लब हाउस चैट में, राहुल गांधी के शीर्ष सहयोगी दिग्विजय सिंह एक पाकिस्तानी पत्रकार से कहते हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो वे अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे। सच में? यही तो पाकिस्तान चाहता है...।'

वहीं, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने क्लब हाउस चैट लीक होने के बाद कहा कि कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान रहा है। इस चैट के दौरान दिग्विजय सिंह ने सिर्फ राहुल गांधी का संदेश पाकिस्तान तक पहुंचाया है।' इधर, भाजपा के प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने कहा, 'कांग्रेस राष्ट्रविरोधियों का क्लब हाउस है। दिग्विजय सिंह ने आर्टिकल 370 बहाल करने पर पुनर्विचार की बात कही। उन्होंने हिन्दू कट्टरपंथी का जिक्र किया।' साथ ही उन्‍होंने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी का दिग्विजय सिंह की क्‍लब हाउस चैट के बारे में क्‍या कहना है? क्‍या कांग्रेस पार्टी का भी इस मुद्दे पर यही सोचना है? हम मांग करते हैं कि राहुल गांधी इस मुद्दे पर एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर अपना और पार्टी का पक्ष स्‍पष्‍ट करें।