नई दिल्‍ली, एजेंसी। सीबीआइ के पूर्व निदेशक राकेश अस्‍थाना को भ्रष्‍टाचार के सभी आरोपों से मुक्‍त करने की रिपोर्टों पर वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने चुटकी ली है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा है कि यह है सरकार का मोदी अमित शाह मॉडल... जो लोग उनका समर्थन करते हैं, वे कुछ भी गलत नहीं कर सकते हैं और जो लोग उनका विरोध करते हैं वो कुछ भी अच्‍छा नहीं कर सकते हैं, चाहे वह आतंकवाद हो या भ्रष्‍टाचार..। लेकिन आखिरकार जीत तो सत्‍य की ही होगी। 

 

दरअसल, सीबाआइ के पूर्व निदेशक राकेश अस्थाना पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, इस मामले में उन्हें जल्द ही क्लीन चीट मिल सकती है। खबरों के मुताबिक सीबीआइ के जांच अधिकारी ने आस्थाना को सभी आरोपों से मुक्त करने के लिए अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है। फिर इस रिपोर्ट को उच्च अधिकारी के सामने पेश किया जाएगा। बता दें कि सीबीआइ के पूर्व निदेशक आलोक वर्मा ने राकेश अस्थाना पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। 

सतीश डागर ने किया स्वैच्छिक सेवानिवृति की मांग

अगस्त महीने में इस मामले में जांच कर रहे अधिकारियों में से एक सतीश डागर ने स्वैच्छिक सेवानिवृति के लिए कहा था। ऐसे करने के पीछे उन्होंने व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया था। हालांकि, अभी तक डागर द्वारा किए गए आवेदन पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। 

अनुच्छेद 370 हटाने पर भी कसा था तंज 

शुक्रवार को कांग्रेस नेता ने जम्मू कश्मीर से अमुच्छेद 370 हटाए जाने के केंद्र सरकार के फैसले पर कहा कि अगर महात्मा गांधी आज जिंदा होते तो वह केंद्र के फैसले के खिलाफ दिल्ली से श्रीनगर तक मार्च की घोषणा कर देता। उन्होंने पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जम्हूरियत, कश्मीरियत और इन्सानियत के जरिए जम्मू कश्मीर मुद्दे के दल करने के सिद्धांत को खत्म कर दिया है।  

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप