नई दिल्ली, प्रेट्र। अपने घोषणा पत्र में अफस्पा हटाने का वादा कर कांग्रेस केंद्र सरकार और भाजपा के निशाने पर आ गई है। बुधवार को भाजपा नेता और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने आरोप लगाया कि कांग्रेस देशद्रोहियों और अलगाववादियों का समर्थन कर रही है। वह सुरक्षा बलों को मिली छूट को खत्म कर उन्हें कमजोर करना चाहती है।

प्रेस कांफ्रेंस में रक्षा मंत्री ने सवाल किया, 'देश के सुरक्षा बलों का मनोबल कमजोर करने का प्रयास किया जा रहा है, क्या यह सही है? कांग्रेस हमारी सेना की ताकत को कम कर रही है। अफस्पा हटाने या संशोधन का वादा कर कांग्रेस किसे फायदा पहुंचाना चाहती है?'

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने संशोधन के लिए जो दलीलें दी हैं, उन्हें सुनकर कोई भी कहेगा कि यह तो अच्छी बात है, लेकिन उनका फायदा कश्मीर में उन लोगों को होगा जो देश की सेना को निशाना बनाते हैं।

कांग्रेस का वादा सिर्फ सनसनी फैलाने और सशस्त्र बलों का मनोबल तोड़ने के लिए किया गया है। रक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि वह जिला कलेक्टर के सोशल मीडिया पर बैन लगाने के अधिकार को भी कम करेगी। इस फैसले से पत्थरबाजों और अफवाह फैलाने वालों को मदद मिलेगी। क्या कांग्रेस यही चाहती है।

असम, नगालैंड व मेघालय से हमने भी हटाया कानून

रक्षा मंत्री ने कहा कि अफस्पा हटाने की एक प्रक्रिया है। केंद्र व राज्य सरकार इस पर मिलकर विचार करते हैं। कांग्रेस का यह वादा घातक है। उन्होंने कहा, हमने नगालैंड और मेघालय से अफस्पा हटाया। असम के कई हिस्सों से अफस्पा हटाया। ऐसा स्थिति को समझने और राज्य सरकार से सहमति के बाद किया गया।

 

Posted By: Bhupendra Singh