जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। पाकिस्तान की कैद में साठ घंटे बिताकर लौटे भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन से शनिवार को रक्षा मंत्री ने दिल्ली के वायुसेना अस्पताल में मुलाकात की है। रक्षा मंत्री ने वायुसेना के जाबांज पायलट की सेहत का संज्ञान लेते हुए विंग कमांडर को उनके प्रति देश की भावनाओं से अवगत कराया है। इस दौरान रक्षा मंत्री ने कहा कि समूचे राष्ट्र को उनके साहस एवं दृढ़ता पर गर्व है। घंटे भर चली इस मुलाकात में वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी भी उनके साथ मौजूद थे।

रक्षा मंत्री से हुई मुलाकात के दौरान अभिनंदन ने पाकिस्तान की गिरफ्त में करीब 60 घंटे रहने केबारे में रक्षा मंत्री को विस्तार से जानकारी दी। ध्यान हो कि अभिनंदन शुक्रवार देर शाम अटारी - वाघा सीमा होते हुए अमृतसर पहुंचे और इसके करीब ढाई घंटे बाद रात करीब पौने 12 बजे वह वायुसेना के एक विमान से दिल्ली पहुंचे। उनके भारतीय सीमा में प्रवेश करने पर यह पाया गया कि उनकी दायीं आंख केपास सूजन है। जिसके बाद दिल्ली लाते ही उन्हें मेडिकल जांच के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।

एयर फोर्स सेंट्रल मेडिकल एस्टैबलिशमेंट (एएफसीएमई) में उनकी मेडिकल जांच की गई है। मेडिकल जांच के बाद उन्हें अब वायुसेना के हॉस्टल में शिफ्ट कर दिया गया है। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं पाया है कि अभिनंदन की मेडिकल रिपोर्ट में क्या निकल कर आया है।

बता दें कि उन्हें पाकिस्तानी अधिकारियों ने 27 फरवरी को पकड़ लिया था। दरअसल, पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के साथ हुई एक झड़प के दौरान उनका मिग 21 गिर गया था। लेकिन उन्होंने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तानी वायुसेना के एफ - 16 को मार गिराया था।

 

Posted By: Ravindra Pratap Sing

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप