नई दिल्ली, प्रेट्र। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल ने लोकसभा में बताया है कि सरकार दो केंद्र शासित प्रदेशों 'दमन व दीव' और 'दादरा व नगर हवेली' का विलय कर उन्हें एक केंद्र शासित प्रदेश में बदल देगी। सरकार इस संबंध में अगले हफ्ते संसद में एक बिल पेश करेगी।

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल ने लोकसभा में इस कदम की दी जानकारी

सरकार ने शुक्रवार को इस कदम की जानकारी तब दी है जब तीन महीने पहले पांच अगस्त को जम्मू और कश्मीर को हिस्सों में बांटकर दो केंद्र शासित प्रदेशों में तब्दील कर दिया गया था।

केंद्र शासित प्रदेशों का विलय विधेयक, 2019 

मेघवाल ने कहा कि दादरा व नगर हवेली और दमन व दीव (केंद्र शासित प्रदेशों का विलय) विधेयक, 2019 अब सरकार के अगले हफ्ते के कामकाज का हिस्सा है।

दोनों केंद्र शासित प्रदेशों का विलय बेहतर प्रशासन के लिए जरूरी है

अधिकारियों का कहना है कि गुजरात के करीब पश्चिमी तट पर स्थित इन दोनों केंद्र शासित प्रदेशों का विलय बेहतर प्रशासन और विभिन्न कार्यो के दोहराव से बचने के लिए किया जाएगा। अब तक दोनों केंद्र शासित प्रदेशों के अलग बजट और अलग सचिवालय रहे हैं। जबकि इनके बीच की दूरी महज 35 किलोमीटर है।

दादरा और नगर हवेली में सिर्फ एक जिला जबकि दमन और दीव में दो जिले हैं

दादरा और नगर हवेली में सिर्फ एक जिला है जबकि दमन और दीव में दो जिले हैं। विलय के बाद इस केंद्र शासित प्रदेश को दादरा, नगर हवेली, दमन और दीव के नाम से जाना जाएगा। इसका मुख्यालय दमन और दीव हो सकता है।

केंद्र शासित प्रदेशों की संख्या घटकर आठ हो जाएगी

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो केंद्र शासित प्रदेश घोषित करने के बाद से देश में मौजूदा समय में नौै केंद्र शासित प्रदेश हैं, लेकिन अब दमन व दीव और दादरा व नगर हवेली के विलय से केंद्र शासित प्रदेशों की कुल तादाद आठ ही रह जाएगी।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप