नई दिल्ली, एएनआइ। कांग्रेस पार्टी पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि को लेकर 14 नवंबर से 29 नवंबर तक देशभर में विरोध प्रदर्शन करेगी। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने शनिवार को कहा, 'हम पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि को लेकर 15 दिनों तक लगातार विरोध प्रदर्शन करने जा रहे हैं, हम 14 नवंबर से 29 नवंबर तक बड़े पैमाने पर अभियान चलाएंगे।' विरोध प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस नेता अपने-अपने क्षेत्रों में 'पदयात्रा' और अन्य कार्यक्रमों का आयोजन कर अपना विरोध जताएंगे।

उन्होंने कहा, 'इन 15 दिनों के दौरान- एक सप्ताह में सभी कांग्रेस समितियां पूरे देश में अपने-अपने क्षेत्रों में 'पदयात्रा' भी करेंगी।' इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने भी ईंधन की कीमतों में वृद्धि को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला और कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक के सुझाव के अनुसार टैक्स को कम किया जाना चाहिए। पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने चेन्नई में कहा, 'यह केवल सरकार का लालच है जिसने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि की है। इसलिए आरबीआई कहता है कि पेट्रोल पंप की कीमतों पर कम टैक्स लगाना चाहिए। आरबीआई बार-बार सरकार से कह रहा है कि पेट्रोल पंप की कीमतें कम होनी चाहिए।'

देश भर में शनिवार को लगातार चौथे दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की गई। 0.35 रुपये की बढ़ोतरी के साथ, राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल की कीमत बढ़कर 107.24 रुपये प्रति लीटर हो गई, जबकि डीजल की कीमत उसी राशि से बढ़कर 95.97 रुपये प्रति लीटर हो गई। मुंबई में पेट्रोल और डीजल की कीमत प्रति लीटर क्रमश: 113.12 रुपये और 104.00 रुपये हैं।

Edited By: Neel Rajput