नई दिल्ली, जेएनएन। सीबीआइ प्रमुख पद से आलोक वर्मा की छुट्टी के बाद कांग्रेस केंद्र सरकार पर हमलावर हो गई है। चयन समिति द्वारा दिए फैसले में आलोक वर्मा को सीबीआइ निदेशक पद से हटाने के बाद कांग्रेस ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने कहा, 'आलोक वर्मा को अपना पक्ष रखने का मौका दिए बिना उन्हें पद से हटाकर पीएम मोदी ने एक बार फिर दिखा दिया है कि वह जांच से कितने डरे हुए हैं। चाहे वह जांच स्वतंत्र सीबीआई निदेशक द्वारा हो या JPC के जरिए संसद द्वारा।' 

चयन समिति की बैठक के बाद कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीवीसी (केंद्रीय सतर्कता आयोग) को भी आड़े हाथों लिया। आनंद शर्मा ने सीवीसी की रिपोर्ट पर सवाल उठाते हुए कहा कि आलोक वर्मा को एक दिन की भी राहत नहीं मिली। अगर सीवीसी की रिपोर्ट में तथ्य होते तो सुप्रीम कोर्ट उस पर कार्रवाई करता।सीवीसी की सिफारिश गैर जरूरी थी, खड़गे ने जो बातें सामने रखी कि उनको कार्यकाल पूरा करने का मौका मिले।

आनंद शर्मा ने आगे कहा, 'पीएम को क्या घबराहट है कि किसी भी कीमत पर सीबीआइ डायरेक्टर को हटाकर अपनी पसंद के अधिकारी को रखना चाहते हैं। पीएम कुछ चीजों को छिपाना चाहते है। वे नहीं चाहते कुछ मामलों की जांच हो।'

Posted By: Manish Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस