नई दिल्ली, पीटीआइ/एएनआइ। गणतंत्र दिवस के मौके पर भी विपक्षी पार्टी कांग्रेस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसने से बाज नहीं आई। पार्टी ने देश के 71वें गणतंत्र दिवस के मौके पर रविवार को प्रधानमंत्री को संविधान की प्रति भेजी और तंज कसते हुए कहा कि अगर उन्हें 'देश को बांटने' से समय मिल जाए तो वह इसे पढ़ लें।

कांग्रेस के सोशल मीडिया विभाग के प्रमुख रोहन गुप्ता के मुताबिक, 'अमेजन' के जरिए प्रधानमंत्री को संविधान की प्रति भेजी गई है। पार्टी ने प्रधानमंत्री को संविधान की प्रति भेजे जाने की रसीद शेयर करते हुए ट्वीट किया, 'प्रिय प्रधानमंत्री, आप तक संविधान की प्रति जल्द पहुंच रही है। आपको देश को बांटने से समय मिल जाए तो कृपया इसे पढ़ें।' पार्टी ने अपने नेताओं की संविधान पढ़ते फोटो भी ट्वीट की।

मुख्य विपक्षी दल ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर भाजपा पर भी निशाना साधा और कहा, 'भाजपा यह समझ नहीं पाई है कि सभी नागरिकों को संविधान के अनुच्छेद 14 के तहत कानून को लेकर समानता हासिल है। सीएए में इस अनुच्छेद का पूरी तरह उल्लंघन किया गया।' इस बीच, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला और कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दीं।

वहीं केंद्र सरकार ने अपने रुख से साफ कर दिया है कि वह सीएए पर अपने कदम वापस नहीं लेने जा रही है। शनिवार को बादली विधानसभा क्षेत्र में एक चुनावी नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि CAA और NRC के विरोध में चल रहे धरनों पर देश तोड़ने की बातें हो रही हैं जबकि राहुल गांधी और केजरीवाल ने इस पर चुप्पी साध रखी है। उन्होंने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर टुकड़े-टुकड़े गैंग का समर्थन करने का आरोप भी लगाया। शाह आप और कांग्रेस पर सीएए के खिलाफ मुस्लिमों को भड़काने का भी आरोप लगा चुके हैं। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस