नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लालकिले से सोमवार को किए गए हमले पर कांग्रेस ने तीखा पलटवार किया और आरोपों को गलत बताया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि आजादी के आंदोलन की विरासत को भाजपा हथियाना चाहती है। साथ ही नेताजी को लेकर किए गए कांग्रेस के कामों को भी एक-एक करके गिनाया।

 कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता सिंघवी ने कहा कि भाजपा की विरासत को तड़प ठीक उसी तरह से है, जैसे पानी के बगैर मछली तड़पती है। प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि हर मौके पर राजनीति शोभा नहीं देती है।

वैसे भी बीजेपी और संघ की विचारधारा से नेताजी की विचारधारा काफी अलग थी। नेताजी कांग्रेस के अध्यक्ष रहे। उन्होंने पीएम के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि आजादी के बाद अपने पहले भाषण में पंडित नेहरू ने नेताजी को याद किया। साथ ही आजाद हिंद फौज के सदस्यों के लिए उन्होंने अदालत में कानूनी लड़ाई लड़ी थी। कांग्रेस ने उन्हें पूरा सम्मान दिया।

सिंघवी ने नेताजी की याद में किए गए कामों को गिनाते हुए बताया कि नेताजी ने नेशनल प्लानिंग कमेटी बनाई थी, जिसके आधार पर आजादी के बाद नेशनल प्लानिंग कमीशन बनाया गया। लेकिन मोदी सरकार ने उसका नाम बदलकर उसे नीति आयोग कर दिया।

सिंघवी ने गांधीजी और नेताजी के बीच मतभेद के सवालों का भी जवाब दिया और कहा कि नेताजी ने ही महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता कहा था। नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा गठित आजाद हिंद सरकार के गठन की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर सोमवार को प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस सरकारों पर सवाल खड़े किए थे। साथ ही कहा था कि देश में एक परिवार को बड़ा साबित करने के लिए भारत मां के कई सपूतों को भुलाया गया।

 

Posted By: Arun Kumar Singh