नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। कांग्रेस अध्यक्ष पद (Congress President Election) के लिए जल्द चुनाव होने जा रहे हैं। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं। इसी यात्रा के बीच उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव की तैयारी कर रहे नेताओं को बड़ी सलाह दी है।

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की सलाह

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने एर्नाकुलम में गुरुवार को प्रेस वार्ता की। राहुल ने कहा कि ये एक ऐतिहासिक पद है। आप एक ऐतिहासिक स्थान ले रहे हैं। एक ऐसा स्थान जो भारत के एक विशेष दृष्टिकोण को परिभाषित करती है। कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ एक संगठनात्मक पद नहीं है बल्कि यह एक वैचारिक पद है। इसलिए मेरी सलाह है कि जो कोई भी कांग्रेस का अध्यक्ष बने, उसे यह याद रखना चाहिए कि वह एक विचारधारा, एक विश्वास प्रणाली और भारत की दृष्टि का प्रतिनिधित्व करेगा।

तीन विचारों पर आधारित है यात्रा की सफलता

राहुल ने कहा कि यात्रा की सफलता कुछ विचारों पर आधारित है। पहला विचार यह है कि एक भारत अखंड खड़ा है, अपने आप से युद्ध में नहीं है, अपनों से नाराज नहीं है, नफरत से भरा नहीं है। यात्रा कुछ ऐसा है जिसकी अधिकांश भारतीय लोग सराहना करते हैं और पसंद करते हैं।

राहुल ने कहा कि दो अन्य विचार भी हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं। एक है बेरोजगारी का स्तर, जिसका सामना आज भारत कर रहा है। तीसरा मुद्दा कीमतों का है। ये तीन विचार हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं और प्रोत्साहित कर रहे हैं। ये विचार आपस में जुड़े हुए हैं।

गहलोत को छोड़नी होगी सीएम की कुर्सी!

राहुल गांधी ने प्रेस वार्ता के दौरान पार्टी के 'एक व्यक्ति एक पद' नीति का समर्थन किया। राहुल ने कहा कि हमने उदयपुर के चिंतन शिविर में जो वादा किया था उसे निभाया जाएगा।

ये भी पढ़ें:

गहलोत, थरूर और दिग्विजय के बाद कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में आया ये नया नाम, दिलचस्प होगा मुकाबला

सिर्फ चेहरा बदले जाने से क्‍या कांग्रेस को मिल जाएगी संजीवनी बूटी या पार्टी की राह बनी रहेगी मुश्किल

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट