जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। लॉकडाउन के बीच कोरोना से लड़ाई में राज्यों के समक्ष आ रही वित्तीय मुश्किलों के लिए कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार को सीधे जिम्मेदार ठहराया है। कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के दौरान मुख्यमंत्रियों का साफ कहना था कि केंद्रीय मदद तो दूर जीएसटी के उनके हिस्से की रकम भी केंद्र जारी नहीं कर रहा है। इसके मद्देनजर तय हुआ है कि 27 अप्रैल को प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्रियों की बैठक में राज्यों को उनका पैसा तुरंत जारी करने की मांग जोर-शोर से उठाई जाएगी।

कांग्रेस ने भी राज्यों को वित्तीय मदद नहीं दिए जाने पर चिंता जाहिर करते हुए अपने मुख्यमंत्रियों की मांग का समर्थन किया है। कोरोना महामारी से लड़ाई को लेकर बुलाई गई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और छत्तीसगढ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि केंद्र आगे बढ़कर राज्यों को वित्तीय सहायता नहीं देगा तो फिर कोरोना से हमारी जंग कमजोर पड़ जाएगी।

केंद्र ने नहीं रिलीज किया राज्यों का हिस्सा: अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि लॉकडाउन का महीना बीत गया है मगर जीएसटी का राज्यों का हिस्सा अभी तक केंद्र ने रिलीज नहीं किया है। कोरोना से लड़ाई के विशेष पैकेज की रकम भी राज्यों को नहीं मिल पायी है। पुड्डचेरी के सीएम नारायणसामी ने कहा कि अब राशि जारी करने में विलंब हुआ तो स्थिति बिगड़ जाएगी।

राज्यों को संसाधन उपलब्ध कराना बेहद आवश्यक: मनमोहन सिंह

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी बैठक में कहा कि राज्यों और केंद्र के बीच बेहतर सहयोग कोरोना से जंग में अनिवार्य जरूरत है। साथ ही इसमें राज्यों को संसाधन उपलब्ध कराना भी बेहद आवश्यक है। मुख्यमंत्रियों ने कहा कि पीएम के साथ 11 अप्रैल को हुई बैठक में भी पैसा रिलीज करने का अनुरोध किया गया था। पीएम नरेंद्र मोदी को कई मुख्यमंत्रियों ने चिठ्ठी भी लिखी है लेकिन केंद्र ने अभी तक कोई पहल नहीं की है। इसीलिए बैठक में तय हुआ कि कांग्रेस के अलावा विपक्ष शासित दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्री भी पीएम के साथ सोमवार को होनेवाली बैठक में विशेष कोरोना पैकेज वित्तीय सहायता और जीएसटी की राशि जारी करने के मसले को एक सुर में उठाएंगे। 

कांग्रेस मुख्यमंत्रियों की इसको लेकर गोलबंदी होने के सवाल पर पार्टी मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि यह कांग्रेस या भाजपा का नहीं बल्कि राज्यों को लड़ने के लिए ताकत देने का सवाल है। विपक्ष ही नहीं भाजपा के भी कई मुख्यमंत्रियों ने केंद्र से वित्तीय मदद की मांग की है। सुरजेवाला ने कहा कि कोरोना से लड़ाई में नेतृत्व बेशक केंद्र को करना है मगर जमीन पर जंग राज्यों को ही लड़नी है। ऐसे में सभी राज्यों को वित्तीय सहायता तत्काल दिया जाना चाहिए।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस