मुंबई, जेएनएन। महाराष्ट्र में सत्ता का संग्राम अपनी बुलंदियों पर है। दिनभर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से कांग्रेस संग हुई बातचीत के बाद बुधवार शाम को कांग्रेस और एनसीपी नेताओं के बीच समन्वय समिति की बैठक होनी थी, जिसे अंतिम समय में रद कर दी गई।

समन्वय बैठक रद किए जाने को लेकर एनसीपी नेता अजित पवार ने कहा मैं बारामती जा रहा हूं। इस कारण कांग्रेस और एनसीपी नेताओं के बीच समन्वय बैठक नहीं हो सकी है।

कांग्रेस और एनसीपी नेताओं की एक समन्वय बैठक सरकार बनाने के लिए सामान्य न्यूनतम कार्यक्रम (CMP) को अंतिम रूप देने के लिए एक बैठक आयोजित होनी थी। वहीं, दिन में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण, बालासाहेब थोरात और मणिकराव ठाकरे भी शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और संजय राउत से मिले थे और सामान्य न्यून्तम कार्यक्रम के तौर-तरीकों पर चर्चा की थी।

वहीं, राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू होने के बाद शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने के लिए बातचीत की कमान खुद संभाल ली है। इसी क्रम में मंगलवार देर रात वह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से मिले और बुधवार दोपहर बाद उनकी मुलाकात एक फाइव स्टार होटल में प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से भी हुई। तीनों पार्टियां जल्द ही सरकार बनाने के लिए किसी निष्कर्ष पर पहुंचने का दावा कर रही हैं।

वहीं दूसरी ओर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहब थोरात ने बताया कि दिल्ली से आए कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने मुंबई आकर एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से शिवसेना को साथ लेकर सरकार बनाने के संबंध में चर्चा की थी।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने के बाद शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के बीच बैठकों का दौर चल रहा है। शिवसेना अभी भी 50-50 फार्मूले के आधार पर दोनों ही पार्टियों से बात कर रही है। शिवसेना की शर्त को  लेकर एनसीपी और कांग्रेस अापस में चर्चा कर किसी अंतिम निर्णय में पहुंचना चाहते हैं।  

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप