नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव की चर्चाएं इन दिनों सुर्खियों में हैं। दिवाली से पहले कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिलने जा रहा है। राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष पद की दौड़ से बाहर हो गए हैं। बुधवार को पार्टी के महासचिव जयराम रमेश ने एक प्रेसवार्ता में स्पष्ट किया कि राहुल अध्यक्ष पद की दौड़ से बाहर हैं। ऐसे में ये तय है कि दो दशक से ज्यादा समय बाद कांग्रेस का अगला अध्यक्ष गांधी परिवार से बाहर का होगा।

जारी हुई अधिसूचना

कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी हो गई है। नामांकन प्रक्रिया 24 सितंबर से शुरू होगी और 30 सितंबर तक जारी रहेगी। 8 अक्टूबर तक नामांकन वापस लिया जा सकेगा। 17 अक्टूबर को चुनाव होगा और 19 अक्टूबर को नतीजे का एलान किया जाएगा।

गहलोत के अध्यक्ष बनने की संभावना

अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस नेता शशि थरूर के बीच मुकाबला तय है। हालांकि, ऐसी संभावना है कि गहलोत ही अगले अध्यक्ष बनेंगे। गहलोत ने बुधवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात भी की।

सीएम पद नहीं छोड़ेंगे गहलोत

बड़ा सवाल है कि कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद क्या गहलोत मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ेंगे। इस पर गहलोत ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति किसी राज्य में मंत्री है तो उस पद पर बने रहते हुए अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ सकता है। उन्होंने कहा, 'समय बताएगा कि मैं कहां रहूंगा। मेरे जहां बने रहने से पार्टी का लाभ होगा मैं वहीं रहूंगा।'

राहुल गांधी नहीं भरेंगे पर्चा

कांग्रेस नेता राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा पर हैं। ऐसे में राहुल यात्रा रोककर दिल्ली में पर्चा दाखिल करने आएंगे, इसकी संभावनाएं कम ही हैं। जयराम रमेश ने बताया कि नामांकन प्रत्यक्ष तौर पर पेश होकर ही दिल्ली में करना पड़ेगा। जूम पर यह नहीं किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें:

एक बार फिर किसी बाहरी के हाथ होगी कांग्रेस की कमान, परिवारवाद के ठप्पे से बाहर आने की कोशिश लेकिन चेहरा बने रहेंगे राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव पर भाजपा का निशाना, कहा- गहलोत हों या थरूर, कोई बने लेकिन राहुल के हाथों की 'कठपुतली' ही होगा

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट