नई दिल्ली (एजेंसी)। आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में ग्लोबल आतंकी घोषित कराने में विफल रहने पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआइएम) असदुद्दीन ओवैसी ने गुरुवार को इसे मोदी सरकार की 'झूला कूटनीति' की विफलता बताया।

हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने कहा, 'चीन द्वारा एक आतंकवादी को ब्लैक लिस्टेड करने से इंकार करना मोदी की झूला कूटनीति की विफलता का एक शानदार उदाहरण है।' बता दें कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग जब भारत दौरे पर आए थे, तब प्रधानमंत्री संग उन्होंने झूले पर बैठकर बातचीत की थी। तब इसका फोटो और वीडियो काफी चर्चा का विषय रहा था।

मोदी सरकार की ओर से मुद्रा योजना से संबंधित आंकड़े जारी नहीं करने पर हैदराबाद के सांसद ने कहा कि यह अब उजागर हो गया है। उन्होंने कहा, 'सरकार झूठ में विश्वास करती है। सरकार सही आंकड़े देने में विश्वास नहीं करती है। यह झूठे आंकड़ों में विश्वास करती है। सरकार की ओर से मुद्रा लाभार्थियों के सटीक सर्वेक्षण डाटा को साझा नहीं करने पर सच्चाई सामने आ गई है।'

Posted By: Tilak Raj