रायपुर, जेएनएन। कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में गुरूवार को पीएचई मंत्री गुरू रूद्र कुमार के दरबार में फोटो खिंचवाने को लेकर दो प्रदेश पदाधिकारियों के बीच तीखी नोंकझोंक हो गई। मंत्री दोनों पदाधिकारियों को शांत कराने की कोशिश करते रहे, लेकिन बहस चलती रही। अंतत: मंत्री को एक पदाधिकारी की बात माननी पड़ी और समस्या लेकर आए कार्यकर्ताओं के साथ फोटो खिंचवाने के लिए कमरे से बाहर आना पड़ा।

पीएचई मंत्री से मिलने के लिए मजदूर कांग्रेस के महासचिव गुरूविंदर सिंह चड्ढा श्यामनगर के लोगों के साथ पहुंचे। उन्होंने बताया कि श्यामनगर बस्ती में पाइपलाइन नहीं बिछी है, इसे लेकर वे कई बार जोन -4 आयुक्त से मिल चुके हैं। बुधवार को निगम आयुक्त से भी मिले, लेकिन केवल कोरा आश्वासन मिला। मंत्री ने आयुक्त से ठोस उपाय पर बात करने का आश्वासन दिया। इसके बाद श्यामनगर के लोगों ने मंत्री के साथ फोटो खिंचवाने का आग्रह किया।

प्रदेश महासचिव महेंद्र छाबड़ा ने कहा कि मंत्रियों का दरबार समस्याएं सुनने के लिए है। यह सुनते ही वहां मौजूद किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर शुक्ला कार्यकर्ताओं का पक्ष लेने लगे और बोले- कि कार्यकर्ता चाहते हैं, तो दिक्कत क्या है? छाबड़ा ने कहा कि पीसीसी ने केवल समस्याएं सुनने की व्यवस्था बनाई है। फोटो खिंचवाने के लिए ऐसे मंत्री कक्ष से बाहर निकलकर जाने लगे, तो बाकी कार्यकर्ताओं को परेशानी होगी। शुक्ला ने कहा कि वे फोटो प्रेमी नहीं हैं, कार्यकर्ताओं को फोटो खिंचवाने देते हैं। इस बीच मंत्री दोनों पदाधिकारियों को शांत रहने के लिए बोलते रहे।

छाबड़ा ने कहा कि कोई भी व्यवस्था नियम से चलती है और नियम का पालन करना होगा। बहस चल ही रही थी कि मंत्री कुर्सी से उठे और फोटो खिंचवाने के लिए बाहर निकल गए। छाबड़ा ने पीसीसी कार्यालय के कर्मचारियों को बुलाया और मंत्री के वापस आने के बाद दरवाजा बंद करा दिया। उसके बाद एक-एक करके कार्यकर्ताओं को भीतर बुलाया गया।

मंत्री जी सहकारी बैंक का अध्यक्ष बनवा दें

मंत्रियों के पास कार्यकर्ता समस्याओं के अलावा पद मांगने भी पहुंच रहे हैं। बिलासपुर के एक कार्यकर्ता ने सहकारी बैंक में अध्यक्ष बनने के लिए आवेदन दिया। ऐसे ही कुछ कार्यकर्ता निगम-मंडल, जिला और प्रदेश संगठन में पद की मांग करने पहुंचे थे।

एनओसी लेकर आओ

नयापारा के लोगों ने मंत्री से कहा कि उनका मोहल्ला ड्राई एरिया हो गया है। सारे बोर सूख गए हैं। नल में भी पानी नहीं आ रहा। दिनभर में दो या तीन टैंकर आता है, उससे समस्या दूर नहीं हो रही। मंत्री बोले-रायपुर नगर निगम क्षेत्र में अमृत मिशन योजना पर काम हो रहा है। निगम आयुक्त एनओसी दे देते हैं, तो नयापारा क्षेत्र में पीएचई अपने बजट से जलसंकट दूर करने का इंतजाम करेगा।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस