जशपुरनगर, राज्य ब्यूरो। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस कार्यकर्ता आमने- सामने आ गए हैं। यहां पर एक बार फिर कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद के लिए ढाई-ढाई साल का मुद्दा उठा। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और प्रदेश संगठन प्रभारी सप्तगिरी शंकर उल्का के सामने ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव (बाबा) के समर्थक भिड़ गए। मंच से संबोधित कर रहे बाबा समर्थक पवन अग्रवाल ने ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री का मुद्दा उठाया तो बघेल के समर्थक इफ्तखार हसन भड़क गए और पवन अग्रवाल को धक्का देकर मारना शुरू कर दिया। यह देख भूपेश बघेल के कुछ और कार्यकर्ता मंच पर चढ़ आए और पवन अग्रवाल के साथ बदसलूकी करने लगे।

वायरल हुआ हाईवोल्टेज ड्रामा

जशपुरनगर के सती उद्यान पार्क स्थित वशिष्ठ कम्युनिटी हाल में रविवार को आयोजित कांग्रेस सम्मेलन में मंच पर आला नेताओं की मौजूदगी में हुए इस हाई वोल्टेज ड्रामा का वीडियो इंटरनेट मीडिया में खूब वायरल हो रहा है। वीडियो में सम्मेलन में मौजूद वरिष्ठ पदाधिकारी मामले को शांत करा रहे हैं। सम्मेलन में प्रदेश संगठन प्रभारी सप्तगिरी के साथ संसदीय सचिव यूडी मिंज, विधायक विनय भगत, जिलाध्यक्ष मनोज सागर यादव मौजूद थे।

ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री का मुद्दा उठा

इस दौरान पूर्व जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल ने अपने संबोधन में ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय कांग्रेस भी सिंहदेव को तय फार्मूले के अनुसार अवसर देने के लिए सहमत है। इसके बाद सिंहदेव समर्थक कार्यकर्ता सम्मेलन में नारेबाजी करने लगे थे। मामले को तूल पकड़ता देखकर बघेल समर्थक हुसैन ने अग्रवाल को रोकने का प्रयास किया और यही से विवाद शुरू हुआ। बदसलूकी के शिकार हुए अग्रवाल ने पूरी घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। वहीं इंटरनेट मीडिया में भी कांग्रेसी भिड़ते नजर आ रहे हैं।

सर्वसमाज ने फूंका पुतला

कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल के साथ हुई बदसलूकी के विरोध में सर्वसमाज की ओर से पत्थलगांव के इंदिरा चौक पर इफ्तिखार हसन का पुतला दहन किया गया। इस दौरान लोगों ने इफ्तिखार हसन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

घटना सुनियोजित षड्यंत्र : पवन अग्रवाल

पूर्व जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल ने कार्यकर्ता सम्मेलन में हुई घटना को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के समर्थकों का पूर्व नियोजित षड्यंत्र बताते हुए पार्टी के जिलाध्यक्ष मनोज सागर यादव और अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष इफ्तिखार हसन को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि टीएस सिंह देव ने 2.5 साल (सीएम बनने के लिए) इंतजार किया और अब भूपेश बघेल को अपनी सीट खाली करनी होगी। जब यहां कांग्रेस की सरकार नहीं थी, तब देव और बघेल ने साथ काम किया था। उन्हीं की बदौलत कांग्रेस की सरकार सत्ता में आई है। जब मैं यह कह रहा था तो कुनकुरी विधायक के लोगों ने मुझ पर हमला कर दिया।

जशपुर कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष मनोज सागर यादव ने कहा कि यह कांग्रेस परिवार का अंदरुनी मामला है। आपस में चर्चा कर सुलझा लिया जाएगा। हाईकमान से मार्गदर्शन लेकर आवश्यक होने पर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Arun Kumar Singh