नई दिल्‍ली (एएनआइ)। छत्‍तीसगढ़ में चल रही राजनीतिक उठापठक के बीच वहां के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल शुक्रवार को दिल्‍ली में राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे। बघेल के मुताबिक उन्‍हें कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल का संदेश मिला है, जिसमें कहा गया है कि उन्‍हें आज राहुल गांधी से मुलाकात करनी है। इसलिए वो पार्टी हाईकमान के पास जा रहे हैं। उन्‍होंने ये भी भी बताया है कि उन्‍हें दिल्‍ली बुलाया गया है, लिहाजा वो वहां जा रहे हैं। उनके मुताबिक लोग अपने नेता से क्‍यों नहीं मिल पाते हैं है, जबकि कुछ लोग बिना न्‍योते के भी वहां पर पहुंच जाते हैं। इन दोनों के बीच ये मुलाकात शाम चार बजे हो सकती है। इस बीच छत्‍तीसगढ़ के कुछ विधायकों ने दिल्‍ली में पीएम पुनिया से मुलाकात की है। 

भूपेश बघेल पर टीएस सिंहदेव ने चुटकी लेते हुए कहा है क‍ि टीम का हर खिलाड़ी कप्तान बनना चाहता है। ये उसकी सोच का नहीं बल्कि क्षमता का सवाल है। पार्टी हाईकमान जिसको जिस भूमिका में रखता है उसको वो निभाता है। उन्‍होंने ये भी कहा कि आलाकमान की तरफ से कभी भी ढाई-ढाई साल के फार्मूले की बात नहीं की गई थी।

आपको बता दें कि छत्‍तीसगढ़ में कुछ समय से राजनीतिक खींचतान चल रही है। इसको देखते हुए सरकार पर संकट के बादल मंडराते दिखाई दे रहे हैं। सीएम बघेल ने अपने ऊपर अंगुली उठाने वालों पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि राज्‍य में राजनीतिक अस्थिरता लाने वालों के मंसूबे कभी सफल नहीं हो सकेंगे। गौरतलब है कि दो दिन पहले भी उन्‍होंने राहुल गांधी से मुलाकात की थी।

बता दें कि राज्‍य में कुछ समय से सीएम भूपेश बघेल और उनकी कैबिनेट के मंत्री टीएस सिंह देव के बीच जबरदस्‍त खींचतान चल रही है। इन दोनों के बीच जारी खींचतान से पार्टी की छवि को भी नुकसान पहुंच रहा है। इसको देखते हुए ही इन दोनों को दिल्‍ली बुलाया गया था। इसका मकसद दोनों के बीच मनमुटाव को दूर कर आपसी सुलह करवाना था।

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद छत्‍तीसगढ़ पहुंचने पर बघेल ने ये भी कहा था कि जब तक पार्टी हाईकमान चाहेगा वो सीएम बने रहेंगे और जब उन्‍हें इस पद को छोड़ने का आदेश होगा वो इसे छोड़ देंगे। इस मुलाकात के बाद पार्टी ने ये भी साफ कर दिया था कि राज्‍य की सत्‍ता में किसी तरह का कोई बदलाव नहीं किया जाएगा।

Edited By: Kamal Verma