रायपुर, जेएनएन। छत्तीसगढ़ के रामानुजगंज सीट से कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह ने रविवार शाम राजधानी रायपुर में मीडिया से चर्चा में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि उनसे (सिंहदेव) मुझे जान का खतरा है। मुझ पर हमले के पीछे उन्हीं का हाथ है। वो महाराजा हैं। मेरी हत्या करा सकते हैं। बृहस्पति ने कहा कि मेरी हत्या कराने से यदि वे मुख्यमंत्री बन सकते हैं, तो उन्हें यह पद मुबारक हो।

तीन गिरफ्तार

बृहस्पति यहीं नहीं रके। उन्होंने कहा कि मंत्री सिंहदेव कांग्रेस विधायकों का अपमान करते हैं। मालूम हो कि शनिवार की रात अंबिकापुर में बृहस्पति सिंह के काफिले पर हमला हुआ था। इस मामले में मंत्री सिंहदेव के रिश्तेदार सचिन सिंहदेव और उनके समर्थकों पर पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

विधायकों ने जाना हाल

हमले के बाद रविवार को रायपुर पहुंचे बृहस्पति से विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी समेत करीब दर्जनभर आदिवासी विधायकों ने मुलाकात कर उनका हाल-चाल जाना। बृहस्पति ने कहा कि वह प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया से अनुरोध करेंगे कि जो मंत्री सरकार की छवि खराब कर रहे हैं, उन्हें बाहर का रास्ता दिखाएं। गुंडागर्दी करने वाले विधायक और मंत्री पर कार्रवाई हो। मैं आदिवासी विधायक हूं। मेरा भी मान-सम्मान है।

ऊपर तक करूंगा शिकायत

उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से भी इसकी शिकायत करूंगा। साथ ही विधायक दल की बैठक में अपनी बात रखूंगा। मैं विधानसभा अध्यक्ष डा. चरणदास महंत, विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी से भी शिकायत करूंगा।

बघेल के पक्ष में बयान देने के कारण हुआ हमला

बृहस्पति सिंह ने कहा कि कुछ दिन पहले मैंने बयान दिया था कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अच्छा काम कर रहे हैं। वे 25 साल तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहेंगे। इस बयान के बाद से ही सिंहदेव समर्थक उनको निशाना बना रहे हैं।

सिंहदेव बोले- आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो

वहीं सूबे के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि मेरी पुलिस अधीक्षक से बात हुई है। मैंने उनसे कहा कि मामले में शामिल आरोपियों के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की जाए। इस तरह की वारदात बर्दाश्त के लायक नहीं है। मैंने विधायक बृहस्पति सिंह से भी बात करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने काल रिसीव नहीं किया।  

Edited By: Krishna Bihari Singh