नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की डेनमार्क यात्रा को मंजूरी नहीं मिलने को दिए जा रहे सियासी रंग पर सरकार ने बुधवार को अपनी सफाई दी है। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि 'यह मेयर लेवल का कांफ्रेस है, इनमें पश्चिम बंगाल से तो मंत्री भाग लेने जा रहे है।' बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने डेनमार्क में 09 से 12 अक्टूबर तक पर्यावरण को लेकर होने वाली कॉप (कांफ्रेस)-40 में हिस्सा लेने के लिए अनुमति मांगी थी।

खास बात यह है कि मंगलवार को विदेश मंत्रालय ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से विदेश यात्रा की मांगी गई अनुमति को खारिज कर दिया था। साथ ही कहा था इसे राजनीतिक रूप से नहीं देखा जाना चाहिए। इसके पीछे दूसरी कई अहम वजहें होती है।

इसी बीच बुधवार को कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देने के लिए पहुंचे केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से इसे लेकर सवाल किया गया। इस पर उन्होंने ज्यादा कुछ कहने के बजाय सिर्फ इतना ही बोला, कि जिस कॉन्‍फ्रेंस में वह जाना चाहते थे, वह मेयर लेवल की कांफ्रेस है, जिसमें पश्चिम बंगाल से तो मंत्री जा रहे है। उनका सीधा इशारा यह था, कि वह मुख्यमंत्री के स्तर की कांफ्रेस नहीं थी। गौरतलब है कि पिछले कई दिनों ने उन्हें विदेश यात्रा की अनुमति न दिए जाने को आम आदमी पार्टी मुद्दा बनाए हुए है।

बता दें कि दिल्ली में सरकार बनने के बाद केजरीवाल का वह पहला विदेश दौरा था। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को डेनमार्क जाने की अनुमति नहीं मिलने पर आम आदमी पार्टी ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। (आप) से राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा है कि मैं यह समझ नहीं पा रहा हूं कि मोदी सरकार क्यों हमारे साथ ऐसा अन्यायपूर्ण व्यवहार कर रही है। उन्होंने कहा है कि सीएम केजरीवाल छुट्टी मनाने के लिए डेनमार्क नहीं जा रहे थे। एशिया के 100 शहरों के मेयरों से प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई के लड़ने के तरीकों के विषय में चर्चा करने जा रहे थे।

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप