नई दिल्‍ली (जेएनएन)। देश के पहले चीफ आफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल बिपिन रावत के निधन से पूरा देश स्‍तब्‍ध है। हर कोई उन्‍हें नम आंखों से अपनी श्रद्धांजलि दे रहा है। मद्रास रेजीमेंटल सेंटर में सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्‍नी के पार्थिव शरीर को रखा गया है। यहां पर सैनिक सम्‍मान के साथ उनको अंतिम विदाई दी गई। उन्‍हें अंतिम श्रद्धांजलि देने राज्‍य के मुख्‍यमंत्री स्‍टालिन भी पहुंचे। तेलंगाना की गवर्नर और पुडुचेरी की उपराज्‍यपाल तमिलसई सुंदराजन ने भी उन्‍हें श्रद्धांजलि दी। इसके बाद इन्‍हें वायु सेना के विमान से दिल्‍ली लाया गया। एयरपोर्ट के रास्‍ते में उनके पार्थिव शरीर पर फूलों की बारिश की गई।

CDS Bipin Rawat Death Latest Updates ::::

तीनों सेना प्रमुखों ने दी श्रद्धांजलि

सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार और वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और अन्य 11 सशस्त्र बलों के जवानों को श्रद्धांजलि दी, जिन्होंने हेलीकाप्‍टर क्रैश में अपनी जान गंवाई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पालम एयरबेस पहुंचकर सैन्य हेलीकाप्टर दुर्घटना में दिवंगत सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्‍होंने सीडीएस जनरल बिपिन रावत और अन्य सशस्त्र बलों के जवानों के परिवारों से मुलाकात की।

पालम एयरबेस में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पहुंचे, जहां सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मदुलिका रावत और कल सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जान गंवाने वाले 11 अन्य लोगों के पार्थिव शरीर रखे गए हैं।

दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पहुंचा सीडीएस ब‍िप‍िन रावत का पार्थिव शरीर

वायुसेना के एक विमान तमिलनाडु के सुलूर से सीडीएस रावत और उनकी पत्नी मधुल‍िका रावत समेत सैन्य कर्मियों के शव को लेकर दिल्ली पहुंच चुका है। थोड़ी देर में पीएम मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, तीन सेना के प्रमुख पहुंचेंगे।

नागरिक कल दोपहर में दे सकते हैं सीडीएस ब‍िप‍िन रावत को श्रद्धांजलि

सीडीएस बिपिन रावत को आम नागरिक सीडीएस कारज मार्ग स्थित उनके आवास पस कल सुबह 11 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक श्रद्धांजलि दे सकते हैं। वहीं, सैन्य कर्मियों के लिए दोपहर 12.30 से 1.30 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है। इसके बाद, पार्थिव शरीर को दिल्ली कैंट बराड़ स्क्वायर में अंतिम संस्कार के लिए ले जाया जाएगा।

पीएम मोदी देंगे श्रद्धांजलि

पीएम मोदी आज रात करीब नौ बजे पालम एयरपोर्ट पर दिवंगत सीडीएस बिपिन रावत और अन्य सशस्त्र बलों के जवानों को श्रद्धांजलि देंगे। रक्षा मंत्री, रक्षा राज्य मंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और तीन सेना प्रमुख भी मौजूद रहेंगे। सीडीएस और सशस्त्र बलों के अन्य जवानों का पार्थिव शरीर आज रात करीब आठ बजे दिल्ली पहुंचेगा। सैन्य विमान दुर्घटना में मारे गए जवानों के परिवार के कुछ सदस्य भी मौजूद रहेंगे। 

भारतीय सेना ने कहा क‍ि सुलूर से भारतीय वायु सेना (IAF)के विमान के आज शाम 7.40 बजे तक पालम हवाई अड्डे पर पहुंचने की उम्मीद है। श्रद्धांजलि समारोह 08.30 बजे से निर्धारित है। 

श्रीलंका के चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) और सेना कमांडर जनरल शैवेंद्र सिल्वा के सीडीएस जनरल बिपिन रावत के अंतिम संस्कार में शामिल होने की उम्मीद है।

श्रीनगर में चिनार कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने बारामूला के शेरवानी कम्युनिटी हाल में सीडीएस जनरल बिपिन रावत को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्‍होंने कहा क‍ि उरी, बारामूला और कश्मीर के लोगों के साथ उनका संबंध किसी और जैसा नहीं था। हमें इस नुकसान से उबरने में समय लगेगा।

कांग्रेस ने दी श्रद्धांजलि 

कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सीडीएस जनरल बिपिन रावत के निधन को देश के लिए अपूर्णीय क्षति बताया है। उन्‍होंने कहा कि उनके सम्‍मान में आज विपक्ष का होने वाला धरना प्रदर्शन भी नहीं किया जाएगा।  

बता दें कि यहीं से सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने पढ़ाई भी की थी। ये विश्‍व का पहला ज्‍वाइंट फोर्स का सर्विस कालेज भी है। यहां पर करीब 550 सैन्‍य अधिकारी अपनी पढ़ाई के दौरान भविष्‍य की चुनौतियों से निपटने की जानकारी पाते हैं। यहां पर करीब 50 अधिकारी दूसरे देशों से होते हैं।

उत्‍तराखंड विधानसभा में भी दी गई श्रद्धांजलि

उत्‍तराखंड जहां के बिपिन रावत रहने वाले थे वहां की विधानसभा में भी उनको श्रद्धांजलि दी गई है। राज्‍य मुख्‍यमंत्री और उनके मंत्रियों समेत सभी विधायकों और अधिकारियों ने उनके फोटो के सामने पुष्‍प अर्पित किए। बता दें कि पौड़ी में अब भी उनके पैतिृक गांव में उनके चाचा और उनका परिवार रहता है। कुछ वर्ष पहले वो यहां पर एक पूजा में शामिल होने के लिए भी आए थे। 

क्रैश होने से पहले का वीडियो आया सामने 

अब एक वीडियो सामने आया है जो इस हेलीकाप्‍टर के क्रैश होने से पहले का है। बताया जा रहा है कि ये वीडियो कुछ स्‍थानीय पर्यटकों ने बनाया था। इसमें देखा जा सकता है कि क्रैश होने से पहले हेलीकाप्‍टर काफी नीचे उड़ रहा था और वहां पर घने बादल छाए थे। माना जा रहा है कि बुधवार को जब ये हेलीकाप्‍टर क्रैश हुआ उस वक्‍त मौसम बेहद खराब था और पायलट को शायद देखने में काफी दिक्‍कत आ रही होगी। 

तस्‍वीर बनाकर दी श्रद्धांजलि 

अमरोहा के आर्टिस्‍ट जोयाब खान ने चारकोल से सीडीएस जनरल बिपिन रावत का पोर्टरेट बनाकर उन्‍हें श्रद्धांजलि दी। ये पोर्टरेट करीब आठ फीट ऊंचा है। 

हादसे की जगह से नमूने लेने पहुंची फोरेंसिंक टीम

तमिलनाडु के फोरेंसिक साइंस डिपार्टमेंट की टीम इसके डायरेक्‍टर श्रीनिवासन के नेतृत्‍व में मौके (कुन्‍नूर के केट्री) पहुंची है। 

ब्‍लैक बाक्‍स मिला 

हेलीकाप्‍टर का ब्‍लैक बाक्‍स मिला, जांच में मिलेगी मदद। इसमें रिकार्ड होती है पायलट और एटीसी के बीच की सारी बातचीत। हादसे वाली जगह से मलवे को हटाकर एकत्रित करने का काम किया जा रहा है। इसको एकत्रित करके हादसे के कारणों का पता लगाया जाएगा।

एयर चीफ मार्शल ने किया हादसे की जगह का मुआयना

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक वायु सेना प्रमुख वीआर चौधरी तमिलनाडु के डीजीपी सेलेंद्र बाबू के साथ  हादसे वाली जगह पर मुआयने के लिए पहुंचे हैं। आपको बता दें कि वायु सेना की तरफ से इस हादसे की जांच के आदेश बुधवार को ही दे दिए गए थे। 

रक्षा मंत्री ने दिया बयान

इस हादसे पर रक्षा मंत्री ने सदन में बयान दिया। इस दौरान उनका गला भी भर आया। उन्‍होंने कहा कि हादसे में मारे गए सभी जवानों का पूरे सैनिक सम्‍मान के साथ अंतिम संस्‍कार किया जाएगा। उन्‍होंने ये भी कहा कि ये देश उनके किए कामों को कभी नहीं भूलेगा। इसके बाद सदन में दो मिनट का मौन भी रखा गया। 

आज दिल्‍ली लाया जाएगा पार्थिव शरीर 

सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत इस हादसे में शिकार हुए सभी लोगों के पार्थिव शरीर आज दिल्‍ली लाए जाएंगे। सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी का अंतिम संस्कार शुक्रवार को दिल्ली छावनी में किया जाएगा।

Edited By: Kamal Verma