लंदन, प्रेट्र। ब्रिटेन में विपक्षी लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन के एक ट्वीट ने भारतीय राजनीति में घमासान मचा दिया है। कॉर्बिन ने ट्वीट कर बताया है कि उन्होंने ब्रिटेन में भारत के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस के प्रतिनिधियों से मुलाकात कर कश्मीर में मानवाधिकारों की स्थिति पर चर्चा की। कॉर्बिन का यह ट्वीट सामने आते ही भाजपा ने कांग्रेस को घेर लिया है और इस कृत्य को शर्मनाक बताया है।

कॉर्बिन ने बुधवार को ट्वीट किया था, 'ब्रिटेन में भारतीय कांग्रेस पार्टी के प्रतिनिधियों से बहुत अर्थपूर्ण मुलाकात हुई। इस दौरान हमने कश्मीर में मानवाधिकारों की स्थिति पर चर्चा की। लंबे समय से इस क्षेत्र को जकड़े हुए भय व हिंसा का चक्र रुकना चाहिए और शांति स्थापित होनी चाहिए।' कॉर्बिन ने कांग्रेस के प्रतिनिधियों के साथ अपनी तस्वीर भी साझा की है। ब्रिटेन में इंडियन ओवरसीज कांग्रेस की कमान संभाल रहे कमल धालीवाल भी तस्वीर में दिख रहे हैं।

तस्वीर और ट्वीट सामने आने के बाद भाजपा ने कांग्रेस को घेरे में ले लिया। भाजपा ने कहा, 'कांग्रेस को भारत की जनता के सामने बताना चाहिए कि उसके नेता विदेशी नेताओं को भारत के बारे में क्या बता रहे हैं। इस शर्मनाक धोखेबाजी के लिए देश कांग्रेस को जरूर जवाब देगा।' भाजपा में विदेश मामलों के विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे विजय चौथाईवाले ने कहा, 'यह कांग्रेस है, जो ब्रिटेन में लेबर पार्टी के नेता से सलाह ले रही है। वह सीधे पाकिस्तान में अपने आकाओं के पास भी जा सकती है।'

कांग्रेस की ब्रिटेन इकाई ने दी सफाई

कांग्रेस की ब्रिटेन इकाई ने इस मुलाकात पर सफाई दी है। पार्टी ने कहा, 'जेरेमी से यह मुलाकात हमने अपनी पार्टी द्वारा कश्मीर पर लाए गए रिजॉल्यूशन की निंदा करने और यह पक्ष रखने के लिए की थी कि कश्मीर देश का आंतरिक मामला है। इस मामले में किसी बाहरी देश का हस्तक्षेप स्वीकार्य नहीं है। भाजपा अपनी विफलताओं से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए इसे मुद्दा बना रही है।' कांग्रेस ने कहा कि भाजपा आर्थिक सुस्ती, बेरोजगारी और बैंकिंग संकट जैसे सवालों पर निरुत्तर है, इसलिए झूठ फैला रही है।

देश में कांग्रेस ने पल्ला झाड़ा

इस बीच, देश में कांग्रेस ने इस मुलाकात से पल्ला झाड़ लिया है। वरिष्ठ नेता एवं पार्टी के विदेश विभाग के प्रमुख आनंद शर्मा ने कहा कि इंडियन ओवरसीज कांग्रेस भारत की नीति एवं घरेलू मामलों पर कांग्रेस पार्टी की ओर से कुछ कहने के लिए अधिकृत नहीं है। शर्मा ने कहा, 'कांग्रेस पार्टी को जो भी कहना है, वह यहां भारत में कहेगी। इसके अलावा किसी भी व्यक्ति, इकाई या संस्था को यह अधिकार नहीं है। मैं लेबर पार्टी के नेतृत्व को भी इस बात से अवगत करा दूंगा, जिससे जेरेमी कॉर्बिन तक यह जानकारी पहुंच जाए। कांग्रेस पार्टी देश के आंतरिक विषयों पर किसी बाहरी से कभी बात नहीं करेगी।'

यह भी पढ़ें: भड़काऊ भाषण देने के मामले में आजम खां को सेशन कोर्ट से राहत

यह भी पढ़ें: कश्मीर पर चीन के बयान से भड़की कांग्रेस, कहा- मोदी सरकार को देना चाहिए चिनफिंग को कठोर संदेश

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप