नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका का संगठन ब्रिक्स धीरे धीरे अब एक मजबूत अंतरराष्ट्रीय संगठन के तौर पर स्थापित होने लगा है। अगले हफ्ते ब्राजील में इन देशों की शिखर बैठक है जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी भी हिस्सा लेंगे।

आइ-ब्रिक्स नाम से होगा नया समझौता                

इस बैठक में ब्रिक्स देशों के बीच कारोबार व निवेश संबंधी एक समझौते पर हस्ताक्षर किया जाएगा जो समूह के देशों के बीच निवेश को बढ़ाने में सहूलियत देगा। इसके अलावा इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए भी आइ-ब्रिक्स के नाम से एक नया समझौता होगा जो सदस्य देशों को विज्ञान व तकनीकी क्षेत्र में एक दूसरे के ज्यादा करीब लाएगा।

मोदी और शिनफिंग के बीच मुलाकात संभव

बैठक के दौरान पीएम मोदी की अन्य सभी चार देशों के राष्ट्राध्यक्षों से अलग अलग मुलाकात होने की संभावना है। ऐसे में मोदी और चीन के राष्ट्रपति शिनफिंग के बीच भी मुलाकात संभव है। दोनो नेताओं के बीच तकरीबन एक महीने पर फिर मुलाकात होगी।

14 नवंबर को होगी शिखर बैठक                                       

ब्रिक्स शिखर बैठक 13-14 नवंबर, 2019 को ब्राजील की राजधानी में होगी। उसमें हिस्सा लेने के लिए पीएम मोदी 12 नवंबर को रवाना होंगे। 14 नवंबर को शिखर बैठक होगी। इसके बारे में जानकारी देते हुए विदेश मंत्रालय के सचिव (आर्थिक संबंध) टी एस त्रिमूर्ति ने बताया कि ब्रिक्स नेताओं की यह 11वीं वार्षिक बैठक होगी। इस बार शीर्ष नेताओं की बंद कमरे में होने वाली बैठक में वैश्विक हालातों पर खास तौर पर चर्चा होगी। ब्रिक्स देशों की तरफ से गठित न्यू डेवलपमेंट बैंक की तरफ से एक रिपोर्ट भी पेश की जाएगी। साथ ही इस बैंक की तरफ से दूसरे देशों को कर्ज देने के प्रस्ताव पर भी बात होगी।

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप