जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। अपनी स्थापना के एक दशक बाद ब्रिक्स देशों के बीच सुरक्षा सहयोग को लेकर व्यापक समझौते पर अब बातचीत रफ्तार पकड़ने लगी है। शनिवार को ब्राजील की राजधानी ब्राजीलिया में ब्रिक्स के सभी पांच देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों (एनएसए) की अहम बैठक से कुछ ऐसे ही संकेत मिलते हैं। इस बैठक में एनएसए अजीत डोभाल ने भी हिस्सा लिया।

अगले महीने ब्राजीलिया में होगी ब्रिक्स देशों की बैठक

अगले महीने ब्राजीलिया में ब्रिक्स के पांचों सदस्य देशों ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के शीर्ष नेताओं की सालाना बैठक होनी है जिसमें वैश्विक मंदी के अलावा सुरक्षा से जुड़े तमाम मुद्दों पर आपसी सहयोग को बढ़ावा देना दूसरा सबसे सबसे महत्वपूर्ण विषय होगा।

भारत के लिए इस बार भी आतंकवाद मुद्दा रहेगा

ब्रिक्स को लेकर जो तैयारियां चल रही है उससे यह भी तय है कि भारत के लिए इस बार भी आतंकवाद एक बड़ा विषय रहेगा। भारत को उम्मीद है कि जिस तरह से पूर्व में ब्रिक्स देशों की तरफ से आतंकवाद के खिलाफ कड़ा संदेश दिया गया है वैसा संदेश इस बार भी दिया जाएगा।

 

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस